May २५, २०२० १५:३९ Asia/Kolkata
  • संयुक्त राष्ट्र संघ ने बताया कि यह देश कोरोना की वजह से खत्म हो सकता!

संयुक्त राष्ट्र संघ ने उस देश का नाम बताया है जो संभव है कोरोना की वजह से बच पाने में सफल न हो पाए।

    संयुक्त राष्ट्र संघ का कहना है कि जिस तरह की समस्याएं यमन में हैं और जिस तरह से वह आर्थिक व सामाजिक क्षेत्रों में जूझ रहे है उससे इस बात की आशंका है कि कोरोना के सामने पूरी तरह से टूट जाए।

    यमन में सऊदी अरब द्वारा छेड़े गये युद्ध और सऊदी घेराबंदी की वजह से हालात इतने खराब हैं जिसकी कल्पना भी मुश्किल है। निर्धनता और भुखमरी हर तरफ फैली है और इस देश की सरकार के पास भी कोरोना से मुकाबले के लिए आवश्यक साधन खरीदने की शक्ति नहीं है जो इस संकट को और अधिक जटिल बना रही है।

    कोरोना से पहले ही यमन के निवासी, डेंगू, मरेलिया और कॉलरा में ग्रस्त हो चुके हैं जिनकी वजह से उनमें रोगों से लड़ने की क्षमता कमज़ोर है और इस देश के 80 प्रतिशत से अधिक लोगों को विदेशों से मानवता प्रेमी सहायता की आवश्कयता है।

    इसके अलावा इस देश के अधिकांश अस्पताल बंद पड़े हैं या फिर सऊदी हमले में तबाह हो गये हैं। 

    यमन के एक चौथाई क्षेत्रों में किसी भी प्रकार की मेडिकल सेवा नहीं है और कई वर्षों से इस देश के बच्चों को टीका भी नहीं लगाया जा सका है।

    संयुक्त राष्ट्र संघ के शरणार्थी कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारी जॉन निकोल का कहना है कि कोरोना के फैलाव का बेहद भयानक परिणाम निकल सकता है और इसके साथ यमन में टेस्ट सुविधा न होने की वजह से कोरोना से प्रभावित लोगों की संख्या का पता भी नहीं है। Q.A.

 

 

टैग्स

कमेंट्स