Jun ०५, २०२० २२:०९ Asia/Kolkata
  • इस्राईल की जुर्रत बढ़ी, मस्जिदुल अक़सा के इमाम 4 महीने के लिए मस्जिद अक़सा से बेदख़ल, मुसलमान ख़ामोश

इस्राईली पुलिस ने बर्बरता का प्रदर्शन करते हुए मस्जिदुल अक़सा के इमाम को उनके घर में नज़र बंद कर दिया।

रिपोर्ट में बताया गया है कि इस्राईल ने मस्जिदुल अक़सा के इमाम अकरमा सब्री के घर के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिए हैं और उनको चार महीने के लिए मस्जिदुल अक़सा से बेदख़ल कर दिया है।

फ़िलिस्तीन की सफ़ा न्यूज़ एजेन्सी ने बताया कि इस्राईली पुलिस के साथ इस्राईल ख़ुफ़िया एजेन्सी के एजेन्टों ने भी मस्जिदुल अक़सा के इमाम के घर पर धावा बोल दिया और उनको चार महीने के लिए मस्जिदुल अक़सा से बेदख़ल किए जाने का नोटिस थमा दिया। 

इस्राईल की इस घिनौनी हरकत पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मस्जिद अक़सा के इमाम अकरमा सब्री ने अरब साइट 21 से बात करते हुए कहा कि इस्राईल, लोगों को नज़रबंद करने और बेदख़ल करने का अमानवीय हथकंडा अपना रहा है। उनका कहना था कि दुनिया के किसी भी कोने में किसी को भी मस्जिद और धार्मिक स्थलों से दूर नहीं रखा जाता, यह इस्राईल है जो यह घिनौनी हरकत कर रहा है।

उनका कहना था कि इस्राईल ने मस्जिद अक़सा से बेदख़ल करके एक खुला ज़ुल्म किया है। मस्जिदुल अक़सा के इमाम ने कहा कि इस्राईल, बैतुल मुक़द्दस शहर का यहूदीकरण करने के प्रयास में है और इस्राईल इसके लिए जी तोड़ कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि कुछ अरब देशों द्वारा इस्राईल के साथ संबंधों को सामान्य करने की कोशिश, पवित्र स्थलों पर हमले के लिए उसे और भी दुस्साहसी बना देगी। (AK)

टैग्स

कमेंट्स