Jul १५, २०२० २२:२२ Asia/Kolkata
  • हक़ीक़त छुप नहीं सकती बनावट के उसूलों से, यमनियों के हमलों से सऊदी अरब को हुआ भारी नुक़सान, ब्योरा हुआ जारी, आप भी जानिए

सऊदी अरब के प्रसिद्ध ब्लॉगर ने सऊदी अरब के भीतर नये सैन्य ठिकानों पर यमन की सशस्त्र सेना के मीज़ाइल हमलों के बारे में जिसमें बहुत अधिक नुक़सान हुआ है, गुप्त जानकारियां दी हैं।

अल आलम टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब के प्रसिद्ध ब्लॉगर मुजतहिद ने जो आले सऊद के बारे में अहम जानकारियां शेयर करते रहते हैं, ट्वीट किया कि कुछ दिन पहले यमनियों के मीज़ाइल और ड्रोन हमले में सऊदी अरब के महत्वपूर्ण और संवेदनशील ठिकानों को निशाना बनाया गया।

मुजतहिद ने कहा कि यमनियों ने जीज़ान की रिफ़ाइनरी को निशाना बनाया, यह दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी रिफ़ाइनरी है और अराम्को की ब्रांच है।

उनका कहना था कि रिफ़ाइनरी में लगी आग का जब वीडियो सामने आएगा तो पोल खुल जाएगी।

मुजतहिद एक अन्य ट्वीट में कहते हैं कि ख़मीस मुशईयत में पायलटों के हास्टल पर हमले के लिए यमन की सैन्य सूचना और समय का निर्धारण बहुत ही सटीक था।

सऊदी अरब के प्रसिद्ध ब्लॉगर मुजतहिद लिखते हैं कि इस हमले में दो विदेशी पायलटों सहित कई पायलटों के मारे जाने की पुष्टि हुई है और विदेशी मीडिया उस सच्चाई को उजागर करेगा जो आले सऊद छिपा रहा है।

मुजतहिद इन हमलों में दसियों सऊदी सैनिकों के मारे जाने की सूचना देते हैं और कहते हैं कि अभी हम मारे गये सैनिकों के नामों का पता लगा रहे हैं और उसके बाद आपको बताएंगे।

ज्ञात रहे कि यमनी सेना ने सोमवार को सऊदी अरब के अबहा, नजरान और जीज़ान के हवाई अड्डों, पैट्रियाट मीज़ाइल सिस्टम, पायलट के हास्टल, युद्धक विमानों और तेल प्रतिष्ठानों पर ड्रोन और मीज़ाइल हमलों की सूचना दी थी। (AK)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

टैग्स

कमेंट्स