Aug २७, २०२० १८:२३ Asia/Kolkata

पवित्र कर्बला में मौजूद श्रद्धालुओं के बीच हम उन्हें तलाश रहे थे कि जो इस साल यहां नहीं आ सके, हमारी मुराद इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के ईरानी और विदेशी श्रद्धालुओं से है। विशेषकर ईरानी श्रद्धालु जो बैनुल हरामैन अपने ग़मग़ीन नौहों से हर चाहने वालों की आंखों में आंसू ले आते थे ... इस साल कर्बला ईरानी श्रद्धालुओं से खाली है, इस पहले हमेशा बैनुल हरामैन ईरानी श्रद्धालु बहुत बड़ी संख्या में होते थे, हम दुआ करते हैं कि ...

टैग्स