Oct १९, २०२० १९:२४ Asia/Kolkata
  • सीरिया में तुर्की की बड़ी पराजय, 8 निगरानी स्टेशनों और 5 सैन्य चौकियों से पीछे हटेगी तुर्क सेना

एक न्यूज़ वेबसाइट ने बड़ा ख़ुलासा किया है कि तुर्की ने सीरिया के इदलिब प्रांत में अपनी कुछ सैन्य चौकियों और निगरानी केन्द्रों को बंद करने का फ़ैसला किया है, जिन्हें रूस के साथ एक समझौते के तहत स्थापित किया गया था।

2017 में तुर्की ने रूस के साथ एक समझौते के बाद, इदलिब में 12 सैन्य स्टेशनों की स्थापना की थी, जिसके बाद इस इलाक़े में सीरियाई सरकार को तुर्की समर्थित सशस्त्र विद्रोही गुटों के ख़िलाफ़ अपना अभियान रोकना पड़ा था, लेकिन उसने इसे तुर्की द्वारा अपनी सरज़मीन पर अतिक्रमण क़रार दिया था।

मिडिल ईस्ट आई की रिपोर्ट के मुताबिक़, तुर्क सेना 4 सैन्य चौकियों और 2 निगरानी केन्द्रों से पीछे हटने की योजना बना रही है। सीरियाई सेना ने इस साल के शुरू से ही तुर्की के इन सैन्य ठिकानों की घेराबंदी कर रखी है।

दो जानकार सूत्रों के हवाले से न्यूज़ वेबसाइट ने बताया कि वर्तमान स्थिति में तुर्क सेना, इन सैन्य ठिकानों की रक्षा करने की पोज़ीशन में नहीं है, इसीलिए उसने इन ठिकानों को ख़ाली करने का फ़ैसला लिया है।

हालांकि एक तुर्क सैन्य अधिकारी ने इन ठिकानों से पीछे हटने की ख़बर का खंडन किया है।

तुर्की के इन क्षेत्रों से वापसी का फ़ैसला, आश्चर्यजनक है, क्योंकि अंकारा इस बात पर अड़ा हुआ है कि भविष्य में मॉस्को और दमिश्क़ के साथ होने वाली बातचीत में उसे इससे लाभ पहुंचेगा।

फ़रवरी में सीरियाई सेना ने इदलिब में तुर्की समर्थन प्राप्त विद्रोहियों के ख़िलाफ़ अपना अभियान तेज़ कर दिया था, जिसमें 60 तुर्क सैनिकों की भी मौत हो गई थी।

मार्च में तुर्क राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोगान और उनके रूसी समकक्ष व्लादिमिर पुतिन के बीच, संघर्ष विराम पर सहमति बनी थी, लेकिन उसमें सीरियाई सेना द्वारा तुर्क सेना की चौकियों की घेराबंदी का उल्लेख नहीं किया गया था।

सीरियाई सूत्रों के अनुसार, उत्तरी पूर्वी सीरिया में तुर्की के 8 निगरानी स्टेशन और 5 सैन्य चौकियों को सीरियाई सेना ने घेर रखा है। msm

टैग्स

कमेंट्स