Oct २१, २०२० १२:३९ Asia/Kolkata
  • बिन सलमान की मुश्किलें बढ़ी, अमरीका में मंगेतर ने दायर किया मुक़द्दमा

सऊदी अरब के विरोधी पत्रकार जमाल ख़ाशुक़्जी की मंगेतर ख़दीजा चंगेज़ ने सऊदी क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान और इस हत्या में लिप्त अन्य लोगों के विरुद्ध मुक़द्दमा दायर कर दिया है।  

फ़ार्स न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार अरब जगत के लिए डेमोक्रेसी नामक संगठन ने कल रात अपने बयान में कहा कि इस संगठन और जमाल ख़ाशुक़्जी की मंगेतर की ओर से 2 वकीलों ने सऊदी पत्रकार जमाल ख़ाशुक्जी की हत्या का मुक़द्दमा, सऊदी क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान और इस हत्या में शामिल 20 अन्य लोगों के विरुद्ध दायर किया है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि हत्या के मुक़द्दमे की अपील वाशिंग्टन में कोलंबिया के सिविल कोर्ट में की गयी है।

ज्ञात रहे कि कुछ महीना पहले सऊदी अरब की राजधानी रियाज़ के क्रिमनल कोर्ट ने पत्रकार जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या में लिप्त 8 अपराधियों को क़ैद की सज़ा सुनाई थी। आठों अपराधियों को कुल मिलाकर 124 साल की सज़ा सुनाई गयी थी जिनमें 5 अराधियों को 20-20 साल क़ैद जबकि तीन अपराधियों को 7 से 10 साल तक की क़ैद की सज़ा सुनाई गयी थी।

सऊदी पत्रकार जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या में लिप्त 8 अपराधियों को क़ैद की सज़ा ऐसी स्थिति में सुनाई गयी कि जब अधिकतर मानवाधिकार संगठन सऊदी क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान और उनके दो निकटवर्ती साथियों सऊदी अलक़हतानी और अहमद अलअसीरी को हत्या का मुख्य ज़िम्मेदार क़रार देते हैं।

ग़ौरतलब है कि सऊदी युवराज मोहम्मद बिन सलमान के आलोचक पत्रकार जमाल ख़ाशुक़्जी को 2 अक्तूबर 2018 को तुर्की के इस्तांबूल शहर में सऊदी वाणिज्य दूतावास में बड़ी बेरहमी से क़त्ल किया गया और उनके जिस्म के टुकड़े टुकड़े कर दिए गए।

सऊदी सरकार इस घिनौनी हत्या के मामले में 18 दिन तक ख़ामोश रही और इंकार करती रही यहां तक कि तुर्की की सरकार और अमरीकी जासूसी विभाग सीआईए ने पर्दा उठाया कि मोहम्मद बिन सलमान के सीधे आदेश से जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या की गयी। (AK)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

इंस्टाग्राम पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स

कमेंट्स