Oct २५, २०२० १४:३६ Asia/Kolkata
  • ज़ायोनी शासन से सांठ-गांठ से क्षेत्र का नक़्शा नहीं बदलेगाः हनिया

फ़िलिस्तीन के इस्लामी प्रतिरोध संगठन हमास के राजनैतिक कार्यालय के प्रमुख ने कहा है कि ज़ायोनी शासन से सांठ-गांठ के माध्यम से क्षेत्र का नक़्शा उस तरह से नहीं बदलेगा जैसा इस्राईल चाहता है बल्कि केवल क्षेत्रीय राष्ट्र, इस इलाक़े का नक़्शा रेखांकित करेंगे।

अलमयादीन टीवी की रिपोर्ट के अनुसार इस्माईल हनिया ने सूडान की ओर से इस्राईल के साथ संबंध स्थापित किए जाने के समझौते को एक राजनैतिक चरमपंथ बताया जो इस्लामी समुदाय के कुछ राष्ट्राध्यक्षों के बीच द्वेषपूर्ण बिखराव का सूचक है। उन्होंने इस बात का उल्लेख करते हुए कि इस्राईल से सूडान का समझौता, सूडानी राष्ट्र और उसकी ऐतिहासिक नीतियों का प्रतिनिधित्व नहीं करता, उन लोगों का आभार प्रकट किया जिन्होंने सूडान के अंदर से इस समझौते का विरोध किया है।

 

फ़िलिस्तीन के इस्लामी प्रतिरोध संगठन हमास के राजनैतिक कार्यालय के प्रमुख इस्माईल हनिया ने बताया कि हमास अपना एक दल मिस्र भेजना चाह रहा है जो द्विपक्षीय मामलों और इसी प्रकार राष्ट्रीय एकता के विषयों की समीक्षा करेगा। ज्ञात रहे कि अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को सूडान और ज़ायोनी शासन के बीच संबंध स्थापना के समझौते की सूचना दी थी। (HN)

 

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

इंस्टाग्राम पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स

कमेंट्स