Oct २५, २०२० २३:२२ Asia/Kolkata
  • पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मुहम्मद मुस्तफ़ा (स) का अनादर, पूरी दुनिया के मुसलमानों का अनादर हैः इराक़ी सांसद

इराक़ी सांसद राद अद्दहलकी ने पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मुहम्मद मुस्तफ़ा (स) के अनादर को पूरी दुनिया के मुसलमानों का अनादर बताया है।

इराक़ी सांसद "राद अद्दहलकी" ने सरकार से कहा है कि वह फ्रांस के साथ किये गए सारे समझौतों को समाप्त कर दे।

राद अद्दहलकी का कहना है कि फ़्रांस के राष्ट्रपति मैक्रां जबतक मुसलमानों से माफ़ी नहीं मांगते उस समय तक फ़्रांस से किये गए सारे ही समझौते निरस्त कर दिये जाएं।  उन्होंने कहा कि अपने पैग़म्बर (स) के अपमान पर हम चुप नहीं बैठेंगे।  इराक़ी सांसद का कहना है कि यह वह मुद्दा नहीं है जिसपर मौन धारण कर लिया जाए।

उन्होंने इराक़ की सरकार से मांग की है कि फ़्रांस के राजदूत को तुरंत तलब करके उनसे आपत्ति जताई जाए।  इस इराक़ी सांसद का कहना था कि फ़्रांस के राष्ट्रपति की हरकत, चरमपंथ और अतिवाद को बढ़ावा देने वाली है।  उन्होंने कहा कि इस्लामी देशों की संसदों को चाहिए कि वे अन्तर्राष्ट्रीय न्यायालय में उस व्यक्ति के विरुद्ध मामला दर्ज कराएं जिसने अन्तिम ईश्वरीय दूत हज़रत मुहम्मद मुस्तफ़ा (स) का अनादर किया है।

ज्ञात रहे कि इससे पहले क़तर की खुदरा व्यापार की बड़ी सरकारी कंपनी "अलमीरा" ने एलान किया है कि वह अपनी सभी शाखाओं से फ्रांसीसी उत्पादों को हटा रही है क्योंकि इस देश में पैग़म्बरे इस्लाम (स) का अपमान किया जा रहा है।  फ्रांसीसी उत्पादों को बायकाट करने का आन्दोलन क़तर और फ़ार्स की खाड़ी के अन्य देशों में ज़ोर पकड़ता जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि फ़्रांस के राष्ट्रपति मैक्रां यह कह चुके हैं कि फ़्रांस में पैग़म्बरे इस्लाम (स) के अपमानजनक कैरीकेचर प्रकाशित होते रहेंगे।  इससे पहले फ्रांसीसी पत्रिका चार्ली हेब्दों ने पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मुहम्मद मुस्तफ़ा (स) के अपमान जनक चित्र प्रकाशित किये थे जिससे पूरी दुनिया के मुसलमान आहत हुए हैं।

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

इंस्टाग्राम पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स

कमेंट्स