Nov २६, २०२० ०८:५१ Asia/Kolkata
  • सऊदी अरब की कराह और चीख़ हमारे जवाबी हमलों का मुख्य उद्देश्य, अभी और भी हमले किए जाएंगेः अंसारुल्लाह आंदोलन

यमन में राजधानी सनआ में स्थापित सरकार की वार्ताकार टीम के प्रवक्ता मुहम्मद अब्दुस्सलाम ने कहा कि जब तक सऊदी अरब की ओर से यमन की घेराबंदी और यमन पर हमले जारी हैं हम उसका मुक़ाबल करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

मुहम्मद अब्दुस्सलाम ने जिद्दा शहर में सऊदी अरब की आरामको तेल कंपनी के प्रतिष्ठान पर यमनी सेना और स्वयंसेवी बलों के मिसाइल हमले के बाद सऊदी अरब के बयानों का हवाला देते हुए कहा कि हमलावर दुशमन की चीख़ और कराह हमारा लक्ष्य है।

उन्होंने कहा कि हमारे हर हमले के बाद सऊदी अरब की चीख़ और कराह सुनाई देती है और हमारी रक्षा कार्यवाहियों में इससे और भी उत्साह पैदा होता है।

सनआ सरकार की वार्ताकार टीम के प्रवक्ता ने कहा कि विश्व समुदाय को चाहिए कि हमलावर सऊदी गठबंधन पर दबाव डालकर हमले और नाकाबंदी समाप्त करवाए। उन्होंने कहा कि यमनी जनता के दर्द और पीड़ा को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता।

उल्लेखनीय है कि जिद्दा शहर में आरामको तेल कंपनी के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठान पर हमले के बाद सऊदी अरब ने इस हमले की निंदा की और कहा कि यह सऊदी अरब पर नहीं बल्कि अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा सुरक्षा और सप्लाई पर हमला है।

यमन की सनआ सरकार संभालने वाले अंसारुल्लाह आंदोलन के अधिकारी मुहम्मद बुख़ैती ने कहा है कि सऊदी अरब के भीतर हमलों का नया चरण हमने शुरू किया है, हम आशा करते हैं कि सऊदी अरब और इमारात की सरकारें यमन पर हमलों से बाज़ आ जाएं क्योंकि हमला जारी रहना उनके हित में अब नहीं है।

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स