Nov २७, २०२० १२:३८ Asia/Kolkata
  • जो बाइडन के आने से ईरान व अमरीका के टकराव में कोई बुनियादी बदलाव नहीं आएगाः इराक़

इराक़ के विदेश मंत्री ने कहा है कि इस बात की अपेक्षा नहीं है कि अमरीका में नए राष्ट्रपति के सत्ता में आने से तेहरान व वाॅशिंग्टन के बीच टकराव में कोई मूल परिवर्तन आएगा।

फ़वाद हुसैन ने रशा टूडे को दिए गए इंटरव्यू में आशा जताई है कि ईरान व अमरीका एक दूसरे से वार्ता की दिशा में आगे बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि हम नहीं चाहते कि इराक़, अमरीका व ईरान के बीच टकराव का मैदान बने क्योंकि इससे इराक़ियों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। इराक़ के विदेश मंत्री ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि अमरीका में बाइडन के राष्ट्रपति बन जाने से ईरान व अमरीका के बीच टकराव में कोई बुनियादी बदलाव आएगा। उन्होंने अमरीका के साथ अपने देश के आगामी संबंधों के बारे में कहा कि आशा है कि जो बाइडन, इराक़ के बारे में अलग रवैया अपनाएंगे और हम एक सकारात्मक परिवर्तन की ओर आगे बढ़ेंगे। उनका कहना था कि बाइडन और उनके विदेश मंत्री एंथनी ब्लिंकन इराक़ को प्राथमिकता देंगे।

 

इराक़ के विदेश मंत्री फ़वाद हुसैन ने अपने पड़ोसी देशों के साथ इराक़ के संबंधों के बारे में कहा कि ये संबंध आपसी हितों पर आधारित हैं और सरकार, सऊदी अरब जैसे पड़ोसी देशों के साथ इराक़ के संबंधों के बारे में फ़ैसला करती है। उन्होंने बग़दाद में अमरीकी दूतावास और कूटनैतिक केंद्रों पर होने वाले हमलों के बारे में कहा कि कुछ गुट ये हमले कर रहे हैं और उन्हें यह संदेश मिल चुका है कि इन हमलों की बलि जनता चढ़ रही है।

 

उन्होंने अपना दूतावास बंद करने की अमरीका की धमकी के बारे में कहा कि अमरीकी पक्ष ने यह धमकी दी थी लेकिन अब वह बात ख़त्म हो चुकी है और अतीत का भाग बन गई है। इराक़ी विदेश मंत्री ने इसी तरह अपने देश में पी.के.के. के सदस्यों की गतिविधियों का विरोध किया लेकिन इसी के साथ कहा कि तुर्की को इराक़ी क्षेत्रों पर हमले करने का हक़ नहीं है। (HN)

 

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स