Nov २८, २०२० १९:२८ Asia/Kolkata
  • यमनी संगठन अंसारुल्लाहः सऊदी अरब के तटों की रक्षा के लिए ब्रितानी फ़ोर्सेज़ की तैनाती का कोई फ़ायदा नहीं

यमन में सनआ सरकार चलाने वाले अंसारुल्लाह आंदोलन ने कहा है कि सऊदी अरब अपने तटों की रक्षा के लिए ब्रितानी फ़ोर्सेज़ को तैनात कर रहा है लेकिन इससे हमारे लिए कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता।

अंसारुल्लाह आंदोलन के पोलित ब्योरो के सदस्य मुहम्मद बुख़ैती ने कहा कि हम जानते हैं कि यमन के ख़िलाफ़ युद्ध में शुरू से ही ब्रिटेन और अमरीका भी शामिल हैं।

बुख़ैती ने कहा कि हम विदेशी कंपनियों को चेतावनी देते हैं कि वह सऊदी अरब से निकल जाएं और समुद्री जहाज़ों के लिए भी हमारी चेतावनी है कि वह सऊदी अरब के तटों और बंदरगाहों के क़रीब जाने से परहेज़ करें क्योंकि वहां मौजूद सारे ही प्रतिष्ठान हमारे निशाने पर हैं।

अंसारुल्लाह आंदोलन की वार्ताकार टीम के प्रमुख मुहम्मद अब्दुस्सलाम ने भी ट्वीट किया कि अमरीका या ब्रितानी कोई भी फ़ोर्स और हथियार सऊदी शासन व्यवस्था को बचा नहीं पाएगा यह शासन यमन के हमलों से तभी सुरक्षित होगा जब वह यमन पर हमले करना बंद कर देगा।

अब्दुस्सलाम ने लिखा कि हम सऊदी अरब को वार्निंग देते हैं कि वह यमन पर कोई भी हमला करने से पहले अच्छी तरह सोच ले।

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स