Jan २५, २०२१ ०८:५७ Asia/Kolkata
  • सऊदी अरब, अमरीका और इस्राईल को इराक़ी हिज़्बुल्लाह की खुली धमकी, जड़ को निशाना बनाते रहेंगे...

इराक़ी हिज़्बुल्लाह का कहना है कि इराक़ में इन दिनों होने वाले जनसंहार का ज़िम्मेदार, अमरीका, इस्राईल और सऊदी अरब है।

फ़ार्स न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार इराक़ी हिज़्बुल्लाह के सुरक्षा मामलों के अधिकारी अबू अली अलअस्करी ने इराक़ी प्रतिरोधकर्ता गुट द्वारा सऊदी अरब पर ड्रोन हमले की सराहना की।

अबू अली अलअस्करी ने ट्वीट किया कि स्वयं सेवी बल के 11 सितारे शनिवार को चमके और देश के आसमान को प्रकाशमय कर दिया, हम इस नुक़सान पर ख़ुद को सांत्वना देते हैं।

उन्होंने ट्वीट किया कि हत्या और सामूहिक जनसंहार का फ़ैसला, इस्राईल, अमरीका और सऊदी अरब का है और अब बदला इधर उधर से नहीं बल्कि आग फैलने की जगह से लिया जाएगा।

उनका कहना था कि हम प्रतिरोधकर्ता गुटों के जवानों के हाथ चूमना चाहते हैं जिन्होंने बिन सलमान के अड्डे पर हमला किया, हम उनको बधाई देना चाहते हैं। उनका कहना था कि हम क्षेत्र और इराक़ में अपने संघर्षकर्ता भाइयों से अपील करना चाहते हैं कि इसी रास्ते पर आगे बढ़ते रहें, आपके बढ़ते हुए क़दमों को कोई रोक नहीं सकता।

ज्ञात रहे कि एक इराक़ी प्रतिरोधकर्ता गुट ने कहा है कि शनिवार को सऊदी अरब की राजधानी रियाज़ में होने वाला हमला, इस गुट ने अंजाम दिया था जो बग़दाद आतंकी धमाकों के शहीदों के ख़ून का बदला था।

इराक़ी प्रतिरोधकर्ता गुट अलवादुल हक़ ब्रिगेड ने रविवार को एक आधिकारिक बयान जारी करके शनिवार को रियाज़ में होने वाले ड्रोन हमले की ज़िम्मेदारी स्वीकार कर ली थी।

इराक़ी प्रतिरोधकर्ता गुटों ने बल दिया था कि कल का ड्रोन अभियान एक शुरुआत है। इस इराक़ी गुट का कहना था कि यह हमला, बग़दाद के आतंकी हमलों के शहीदों का बदला है और अगर बिन सलमान और बिन ज़ाएद की ओर से इस प्रकार के आतंकी हमले जारी रहे तो अगला निशाना शैतानों का अड्डा दुबई होगा। (AK)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स