Jan ३१, २०२१ १७:४४ Asia/Kolkata
  • इस्राईल के साथ संबन्ध स्थापित करने वाले मुस्लिम देशों का बहिष्कार किया जाएः बहरैन के धर्मगुरुओं की मांग

बहरैन के धर्मगुरूओं ने मांग की है कि जिन अरब देशों ने अवैध ज़ायोनी शासन के साथ संबन्ध सामान्य बनाए हैं उनका बहिष्कार किया जाना चाहिए।

अलमनार टीवी चैनेल की रिपोर्ट के अनुसार बहरैन के धर्मगुरूओं ने रविवार को एक बयान जारी किया है। 

इस बयान के माध्यम से उन्होंने कहा है कि इस्राईल के साथ संबन्ध सामान्य करना, फ़िलिस्तीनियों के साथ विश्वासघात है। 

अपने बयान में बहरैनी धर्मगुरूओं ने मुसलमान राष्ट्रों से मांग की है कि वे इन देशों का बहिष्कार करें ताकि उन देशों के लिए पाठ हो जो रिश्ते सामान्य करने के लिए भीख मांगते हैं।

इन बहरैनी धर्मगुरूओं ने इसी प्रकार से अवैध ज़ायोनी शासन के साथ समझौते करने के कारण बहरैन के केन्द्रीय बैंक और देश की दूर संचार कंपनी का भी बहिष्कार करने का आह्वान किया है।

याद रहे कि डोनाल्ड ट्रम्प के दबाव में आकर संयुक्त अरब इमारात, बहरैन, सूडान, और मोरक्को ने इस्राईल के साथ अपने कूटनैतिक संबन्ध सामान्य बना लिए थे जिसका पूरे इस्लामी जगत विशेषकर फ़िलिस्तीनियों की ओर से कड़ा विरोध किया गया था। 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स