Feb १०, २०२१ ०९:५९ Asia/Kolkata
  • यूएई मंगल ग्रह पर चक्कर लगाने के बजाए, ज़मीन पर अपनी साज़िशें बंद करे, यमन

यमन की सर्वोच्च राजनीतिक परिषद के एक सदस्य ने यूएई के होप उपग्रह के मंगल ग्रह की कक्षा में स्थापित होने की ख़बर पर प्रतिक्रिया जताते हुए कहा है कि मंगल ग्रह पर उपग्रह भेजने के बजाय इस देश को यमन के ख़िलाफ़ अपनी साज़िशों पर विराम लगाना चाहिए।

मंगलवार की रात मोहम्मद अली अल-हौसी ने एक ट्वीट में लिखाः यूएई उन हमलावर देशों में शामिल है, जिन्होंने यमन की घेराबंदी कर रखी है और यमनी नागरिकों का जनसंहार कर रहे हैं, लेकिन मंगल ग्रह में होप उपग्रह से उम्मीद लगाए बैठे हैं। यमन और दूसरे देशों के ख़िलाफ़ अपनी साज़िशों को बंद करो।

उन्होंने आगे कहाः यूएई अगर ऐसा करता है तो धरती पर अंजाम दिया जाने वाला यह एक महान कार्य होगा, यहां तक कि मंगल ग्रह पर होप उपग्रह के ज़रिए हासिल किए जाने वाले परिणामों से भी ज़्यादा महत्वपूर्ण होगा।

ग़ौरतलब है कि मंगल को संयुक्त अरब अमीरात के अधिकारियों ने एलान किया था कि होप उपग्रह मंगल ग्रह की कक्षा में प्रवेश कर गया है। इस उपग्रह को जुलाई 2020 में जापान से छोड़ा गया था।

अमरीकी विशेषज्ञों की निगरानी में यूएई के इंजीनियरों ने छह वर्षों की मेहनत के बाद यह उपग्रह तैयार किया था।

सऊदी अरब और यूएई ने अपने घटक देशों के साथ मिलकर मार्च 2015 में यमन के ख़िलाफ़ युद्ध शुरू कर दिया था और उसकी चारो ओर से घेराबंदी कर दी थी।

इस युद्ध में अब तक बड़ी संख्या में बच्चों और महिलाओं समेत लाख़ों लोगों की मौत हो चुकी है और करोड़ों भुखमरी का शिकार हैं। msm

टैग्स