May ०६, २०२१ १६:०४ Asia/Kolkata
  • क़ुद्स में रोमन ऑर्थोडॉक्स गिरजाघर के आर्चबिशप ने भी क़ुद्स के बारे में हसन नसरुल्लाह की बात दोहराई

अलमयादीन की रिपोर्ट के अनुसार रोमन ऑर्थोडॉक्स गिरजाघर के आर्चबिशप अताउल्लाह हना ने विश्व क़ुद्स दिवस के अवसर पर दिये गये संदेश में मुसलमानों, ईसाईयों और विश्व के समस्त स्वतंत्रता प्रेमियों का आह्वान किया है कि वे क़ुद्स नगर को अकेला न छोड़ें और उन जल्लादों का डटकर मुक़ाबला करें जिन्होंने क़ुद्स, उसकी संतान, उसकी मान्यताओं, उसके इतिहास और उसकी पहचान को लक्ष्य बना रखा है।

इसी प्रकार उन्होंने कहा कि फ़िलिस्तीन में रहने वाले ईसाई फ़िलिस्तीनी राष्ट्र के भाग हैं और वे इस बात पर गर्व करते हैं कि उनका संबंध फ़िलिस्तीन से है।

रोमन ऑर्थोडॉक्स गिरजाघर के आर्चबिशप ने कहा कि फ़िलिस्तीन एक ऐसा विषय है जिसने ईसाईयों और मुसलमानों को फ़िलिस्तीन की संतान के रूप में एक साथ जमा कर रखा है और विश्व क़ुद्स दिवस के अवसर पर और समस्त दिनों में क़ुद्स के यहूदीकरण और फ़िलिस्तीन से उसे अलग की ज़ायोनियों की साज़िश के मुकाबले में आवाज़ उठाना, विश्व के समस्त लोगों का एक ईमानी, मानवीय और नैतिक दायित्व है।

ज्ञात रहे कि पवित्र रमज़ान महीने के अंतिम शुक्रवार को ईरान की इस्लामी व्यवस्था के संस्थापक स्वर्गीय इमाम ख़ुमैनी रह. ने विश्व क़ुद्स का नाम दिया है और दूसरे वर्षों की भांति इस साल भी 7 अप्रैल को विश्व के विभिन्न देशों में रैलियां निकाली जायेंगी।

ग़ौरतलब है कि हिज़्बुल्लाह के महासचिव सय्यद हसन नसरुल्लाह ने बुधवार को, विश्व क़ुद्स दिवस के संबंध  में विशेष भाषण में ज़ायेनी शासन (इस्राईल) को संबोधित करते हुए कहा कि तुम्हारा भविष्य नहीं है, तुम्हारी उम्र ख़त्म हो चुकी है, बेकार में अपने जवानों की जान बर्बाद न करो। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स