May १६, २०२१ ११:१५ Asia/Kolkata
  • हमास का बड़ा एलान, सभी फ़िलिस्तीनी हथियार उठा लें, फ़ैसले का वक़्त आ गया है

फ़िलिस्तीन के इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन हमास ने फ़िलिस्तीनी राष्ट्र से अपील की है कि वह ज़ायोनी शासन से मुक़ाबले के लिए सशस्त्र प्रतिरोध के लिए के लिए तैयार हो जाएं। हमास ने कहा है कि, दुश्मन के साथ पूरी ताक़त के साथ तब तक लड़ाई जारी रहेगी जबतक फ़िलिस्तीनी कॉज़ की प्राप्ति नहीं होती है।

रशिया टुडे समाचार साइट के मुताबिक़, हमास के प्रवक्ता फ़ौज़ी बरहुम ने कहा है कि, क़स्साम बटालियन और अन्य प्रतिरोध बलों ने अपनी भरपूर शक्ति, नई टैक्टिक्स और रणक्षेत्र के बेहतरीन प्रबंधन के साथ ज़ायोनी शासन को चौंका दिया है। साथ ही प्रतिरोध बलों ने अपनी कार्यवाहियों से दुश्मन को हर क्षेत्र में पीछे छोड़ दिया है जिससे इस्राईल पूरी तरह हताश हो चुका है। हमास के प्रवक्ता ने कहा कि, तेल अवीव जो इस्राईल की निर्णय लेने वाली राजधानी है, इस समय क़स्साम बटालियन और ज़ायोनियों के बीच युद्ध का मैदान बनी हुई है। उन्होंने कहा कि क़स्साम ब्रिगेड की रॉकेटों का मुख्य लक्ष्य भी तेलअवीव ही है, साथ ही प्रतिरोध के मज़बूत और सटीक प्रहारों से ज़ायोनी शासन की सांसे उखड़ गईं हैं। हमास के प्रवक्ता ने कहा कि, प्रतिरोध बलों के पहले ही हमले में ज़ायोनी शसान को एक बड़े सुरक्षा, समाजिक, सैन्य और राजनीतिक संकट का सामना करना पड़ रहा है।

हमास के प्रवक्ता फ़ौज़ी बरहुम ने बल दिया कि फ़िलिस्तीनी राष्ट्र सभी मोर्चों पर दुश्मन से मुक़ाबले के लिए एकजुट हो गई है। उन्होंने कहा कि प्रतिरोध भी फ़िलिस्तीनी राष्ट्र पर को हर तरह के हमले से सुरक्षित रखने के लिए ज़ायोनी दुश्मन पर हमला करने और संघर्ष के नए नियम लागू करने में संकोच नहीं करेगा। ग़ौरतलब है कि, फ़िलिस्तीनी प्रतिरोध बलों और ज़ायोनी शासन के बीच हाल के दिनों में झड़पों का नया चरण शुरू हुआ है। फ़िलिस्तीनी प्रतिरोध ने तेल अवीव को बैतुल मुक़द्दस और मस्जिदुल अक़सा पर हो रहे हमलों को बंद करने का अल्टीमेटम दिया था और इसके बावजूद इस्राईल की ओर से हमले बंद न किए जाने के बाद फ़िलिस्तीन के प्रतिरोधकर्ता गुटों और ज़ायोनी शासन के बीच झड़पें शुरू हो गईं। (RZ)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स