Jun १३, २०२१ २२:०७ Asia/Kolkata
  • अफ़ग़ानिस्तान में हज़ारा समुदाय की टार्गेट किलिंग जारी, कौन हैं हज़ारा...

अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल के पश्चिमी भाग में इन दिनों हज़ारा समुदाय के लोगों की टार्गेट किलिंग हो रही है।

शनिवार को पश्चिमी काबुल में हुए एक धमाके में दो औरतों की मौत हुयी जो अफ़ग़ान सिनेमा जगत की कर्मचारी थीं। इन दोनों औरतों के शव पूरी तरह जल गए थे। रविवार को इनके शवों की पहचान हुयी। शनिवार को पश्चिमी काबुल में दो यात्री वैन को मैग्नेटिक बम से निशाना बनाया गया। इन आतंकवादी धमाकों में 7 लोग मारे गए और 6 अन्य घायल हुए। मरने और घायल होने वाले आम लोग थे। रिपोर्ट मिलने तक किसी व्यक्ति या गुट ने इन आतंकवादी हमलों की ज़िम्मेदारी नहीं ली थी।

ग़ौरतलब है कि पिछले दो हफ़्ते से पश्चिमी काबुल में मिनी बस और वैन सहित कम से कम 6 वाहन आतंकवादी धमाके का निशाना बने हैं, जिसमें 27 बेगुनाह मारे गए और क़रीब 30 लोग घायल हुए।

हज़ारा अफ़ग़ानिस्तान के सबसे पुराने संप्रदाय में है। इस देश के शियों में ज़्यादातर हज़ारा संप्रदाय के हैं।

दूसरी ओर पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान में महिलाओं ने देश में जंग व हिंसा रुकने के लिए मार्च किया

यह मार्च पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान के नंगरहार प्रांत के केन्द्र जलालाबाद शहर में रविवार को निकला। मार्च में शामिल औरतों ने तालेबान और आतंकवादी गुटों के ख़िलाफ़ अफ़ग़ान फ़ोर्सेज़ का समर्थन किया। (MAQ/N)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए 

टैग्स