Jul २५, २०२१ ११:३८ Asia/Kolkata
  • अफ़ग़ानिस्तान और कश्मीर पर पाकिस्तान और चीन ने मिलाया हाथ, भारत की चिंता बढ़ी

पाकिस्तान और चीन ने सारे अफ़ग़ान स्टिक होल्डर्ज़ से मांग की है कि वह व्यापक युद्ध विराम पर सहमति व्यक्त करें और वार्ता से निर्धारित राजनैतिक समाधान की प्राप्ति के लिए मिलकर काम करें।

डॉन समाचार एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार चीन के सेचवान प्रांत की राजधानी चेन्गडू में आयोजित रणनैतिक वार्ता के तीसरे चरण के बाद जारी संयुक्त बयान में पाकिस्तान के विदेशमंत्री शाह महमूद क़ुरैशी और उनके चीनी समकक्ष वांग यी ने अपनी मांग पर बल दिया।

जारी संयुक्त बयान के अनुसार दोनों पक्षों ने अफ़ग़ान शांति प्रक्रिया के समर्थन और उसमें भरपूर सहयोग का विश्वास दिलाया और कहा कि शांतिपूर्ण, मज़बूत, एकजुट और ख़ुशहाल अफ़ग़ानिस्तान का समर्थन करते हैं।

दोनों पक्षों ने

चीन के विदेश मंत्री वांग यी और उनके पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी ने दोनों देशों के बीच रणनीतिक संबंधों को और मजबूत करने का शनिवार को संकल्प लिया। साथ ही पाकिस्तान में चीन के नौ इंजीनियरों की आतकंवादी हमले में मौत की घटना की संयुक्त जांच कराने तथा कश्मीर मुद्दा समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

वार्ता के अंत में जारी संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि दोनों पक्षों ने यह रेखांकित किया कि शांतिपूर्ण, स्थिर, सहयोगी एवं समृद्ध दक्षिण एशिया सभी देशों के साझा हित में है। शाह महमूद कुरैशी ने ट्वीट किया, 'शांतिपूर्ण, स्थिर एवं समृद्ध दक्षिण एशिया के एक समान नज़रिये को साझा किया और कश्मीर के प्रति चीन के दृढ़ समर्थन की सराहना की। यह दोहराया की विवाद का हल संयुक्त राष्ट्र के नियमों, सुरक्षा परिषद के संबंधित प्रस्तावों और द्विपक्षीय समझौतों के जरिए होना चाहिए जिसमें एकपक्षीय कार्यवाई का विरोध हो।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय से जारी वक्तव्य में कहा गया, 'चीनी पक्ष ने दोहराया कि कश्मीर मुद्दा भारत और पाकिस्तान के बीच इतिहास से विवादित चला आ रहा है और इसका संयुक्त राष्ट्र के नियमों, सुरक्षा परिषद के संबंधित प्रस्तावों और द्विपक्षीय समझौतों के जरिए शांतिपूर्ण एवं उचित ढंग से समाधान निकाला जाना चाहिए। चीन ऐसी किसी भी एकपक्षीय कार्यवाई का विरोध करता है जो स्थिति को जटिल बनाता हो। (AK)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स