Nov २७, २०२१ ११:४५ Asia/Kolkata
  • अमरीका से इस्राईल की मांग, तेल अबीब से रिश्ते बढ़ाने के लिए अरब देशों को दिए जाएं इंसेंटिव

इस्राईल की गृह मंत्री एईलीथ शाकीद ने कहा है कि अरब देशों से इस्राईल के नए समझौतों के लिए अमरीका के इंसेंटिव की ज़रूरत है।

टाइम्ज़ आफ़ इस्राईल के अनुसार शाकीद ने कहा कि अमरीका उन अरब देशों के लिए प्रोत्साहन के रूप में पैकेज पेश करे जो इस्राईल से रिश्ते क़ायम करना चाहते हैं। यह पहला मौक़ा है कि जब किसी इस्राईली अधिकारी ने खुलकर कहा है कि इस्राईल से रिश्ते स्थापित करने के लिए अरब देशों को इंसेंटिव देने की ज़िम्मेदारी अमरीका ने संभाली है।

शाकीद ने कहा कि अरब देश केवल इस्राईल में अपने हितों के लिए तेल अबीब से अपने रिश्ते नहीं बढ़ा रहे हैं बल्कि अमरीका में अपने हितों की वजह से वह इस्राईल से रिश्ते स्थापित कर रहे हैं। इस्राईली गृह मंत्री ने कहा कि जिस अरब देश ने भी इस्राईल से रिश्ते क़ायम किए हैं उसे अमरीका से कुछ न कुछ ज़रूर मिला है इसलिए मुझे लगता है कि अगर अमरीका दिलचस्पी ले तो इस संदर्भ में काफ़ी कामयाबी मिल सकती है।

शाकीद ने कहा कि बिनयामिन नेतनयाहू ने वेस्ट बैंक के मामले में पांव पीछे खींचकर इमारात और बहरैन से अब्राहम समझौतों का रास्ता साफ़ किया था। उन्होंने कहा कि लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम इसी तरह अपने स्टैंड से पीछे हटते जाएंगे, इन देशों को हमसे नहीं अमरीका से कुछ चीज़ों की ज़रूरत है।

सितम्बर 2020 में इमारात और बहरैन ने इस्राईल से अब्राहम समझौता किया था और उसके बाद सूडान और मोरक्को ने भी इस्राईल से रिश्ते क़ायम करने का एलान किया था। इस्लामी जगत में इन सरकारों के प्रति गहरा आक्रोश पाया जाता है।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स