Nov २८, २०२१ २२:४७ Asia/Kolkata
  • परमाणु समझौते के प्रति हम कटिबद्ध रहेंगेः जर्मनी

जर्मनी ने घोषणा की है कि इस देश की नई सरकार परमाणु समझौते के प्रति कटिबद्ध रहेगी।

समाचार एजेन्सी इर्ना की रिपोर्ट के अनुसार तीन पार्टियों के गठबंधन से बनने वाली जर्मनी की आगामी सरकार ने एलान किया है कि वह ईरान के साथ होने वाले परमाणु समझौते के प्रति कटिबद्ध रहेगी। साथ ही उसने परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर करने वाले समस्त देशों का इस समझौते में अपने वचनों पर अमल करने का आह्वान किया है।

साथ ही निकट भविष्य में जर्मनी में बनने वाली गठबंधन सरकार ने इस्लामी गणतंत्र ईरान का आह्वान किया है कि वह परमाणु ऊर्जा की अंतरराष्ट्रीय एजेन्सी IAEA के साथ सहयोग को जारी रखे और परमाणु समझौते के प्रति कटिबद्ध रहे।

साथ ही जर्मनी की भावी नई गठबंधन सरकार ने कहा है कि इस्राईल द्वारा अतिग्रहित भूमियों में वह जायोनी कालोनियों के निर्माण की विरोधी है और उसका मानना है कि दो देशों का गठन मध्यपूर्व संकट का समाधान है और वह इस दृष्टिकोण का समर्थन करती है।

ज्ञात रहे कि आठ मई 2018 को अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक पक्षीय रूप से परमाणु समझौते से निकल गये थे और परमाणु समझौते से निकल जाने के बाद उन्होंने ईरान के खिलाफ अधिकतम दबाव की नीति अपनाई और ईरान के खिलाफ कड़ा से कड़ा प्रतिबंध लगा दिया और यूरोपीय देशों ने भी परमाणु समझौते में अपने वचनों का पालन नहीं किया।

रोचक बात यह है कि आज वे देश ईरान से परमाणु समझौते पर अमल करने और IAEA से सहयोग जारी रखने की मांग कर रहे हैं जिन्होंने न तो परमाणु समझौते पर अमल किया है और न कर रहे हैं और इस बात की भी कोई गैरेन्टी नहीं है कि भविष्य में वे परमाणु समझौते में अपने वचनों पर अमल करेंगे जबकि अमेरिका और यूरोप के नकारात्मक क्रियाकलापों के बावजूद ईरान ने परमाणु समझौते में अपने समस्त वचनों पर अमल किया है। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स