Nov २९, २०२१ १५:३३ Asia/Kolkata

यूनान के नागरिकों ने अमरीका और नैटो के झंडों को जला दिया।

पश्चिमी देश यूनान के नागरिकों ने देश में अमरीकी सैनिकों की उपस्थिति के विरुद्ध प्रदर्शन किए और अमरीका तथा नैटो के झंडों को आग लगा दिया।

फ़ार्स न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार यूनान में अमरीका और नैटो की सैन्य उपस्थिति के विरुद्ध जनता के आक्रोष में वृद्धि होती जा रही है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि उत्तरी यूनान के बंदरगाही शहर एलेक्ज़ेंडर व पुलिस के नागरिकों ने शनिवार को अपने देश में अमरीका की व्यापक सैन्य उपस्थिति के विरुद्ध प्रदर्शन किए।

इस प्रदर्शन का आयोजन यूनान-अमरीका सैन्य गठबंधन का मुक़ाबला करने वाली कमेटी ने किया था। प्रदर्शन में विभिन्न मज़दूर संघों, सेवा निवृत्ति संघ, छात्र संघों और तनाव कम करने और शांति की स्थानीय की कमेटी की शाखा के सदस्यों ने भाग लिया।

इस अंतर्राष्ट्रीय कमेटी के महासचिव ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए अमरीका द्वारा बंदरगाही शहर एलेक्ज़ेंडर व पुलिस के प्रयोग की निंदा की। उन्होंने कहा कि कोई भी इन घटनाओं पर केवल मूकदर्शक बना नहीं रह सकता और पूरा शहर तथा पूर्वी मेसोडोनिया का इलाक़ा साम्राज्यवाद की छावनी में परिवर्तित हो रहा है।

प्रदर्शनकारियों ने अमरीका और नैटो के ख़िलाफ़ नारे लगाए और अमरीका तथा नैटो के झंडों को जलाया। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स