Jan १९, २०२२ १६:१८ Asia/Kolkata
  • संयुक्त राष्ट्रः तालेबान, महिलाओं को सार्वजनिक जीवन से दूर कर रहे हैं

संयुक्त राष्ट्र संघ ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में तालेबान नेता, महिलाओं और लड़कियों के ख़िलाफ़ हिंसा और बड़े पैमाने पर लिंगभेद पर आधारित सिस्टम स्थापित कर रहे हैं।

संयुक्त राष्ट्र संघ की ओर से सोमवार को यह रिपोर्ट जारी की गई है। इस रिपोर्ट को संयुक्त राष्ट्र संघ के सिस्टम में मानवाधिकार के विशेषज्ञों के एक बड़े संगठन ने जारी किया है।

विशेषज्ञों ने दावा किया है कि तालेबान नेता लिंगभेद पर आधारित सिस्टम के तहत महिलाओं और लड़कियों को सार्वजनिक जीवन से दूर कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि विश्व समुदाय मानवीय सहायता के लिए ज़रूरी क़दम उठाए।

विशेषज्ञों ने कहा है कि तालेबान की नीतियां महिलाओं के लिए सज़ा के समान हैं। उन्होंने कहा कि देश भर में संगठित प्रयासों के ज़रिए महिलाओं को सामाजिक, आर्थिक और वित्तीय विभागों से बाहर निकालने पर हमें चिंता है।

विशेषज्ञों ने यह चेतावनी भी दी है कि जातीय, धार्मिक या हज़ारा, ताजीक और हिंदुओं सहित भाषाई अल्पसंख्यकों से संबंध रखने वाली महिलाओं के मामले में यह चिंता और ज़्यादा बढ़ गई है क्योंकि उनके शोषणा की ज़्यादा आशंका है।

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स