Jan २३, २०२२ १४:४१ Asia/Kolkata
  • परमाणु समझौते से निकलना अमरीका की 50 वर्षों में सबसे बड़ी ग़लतीः क्रिस मर्फ़ी

एक अमरीकी सीनेटर ने ट्रम्प द्वारा जेसीपीओए से निकलने को बहुत बड़ी ग़लती बताया है।

अमरीका के एक सीनेटर और सीनेट में विदेशी संबन्धों की समिति के प्रमुख सदस्य क्रिस मर्फ़ी ने जेसीपीओए के संदर्भ में इस देश के पूर्व राष्ट्रपति की नीतियों की कड़ी आलोचना की है।

उन्होंने कहा कि इस संबन्ध में ट्रम्प ने जो ग़लती की है वह पिछले 50 वर्षों में अमरीका में लिया जाने वाला सबसे मूर्खतापूर्ण फैसला था।  क्रिस मर्फ़ी का कहना है कि यह वह फैसला है जिसका विरोध ट्रम्प के कुछ मंत्रियों ने भी किया था।

इस हालत में कि जब ईरान से प्रतिबंध हटाने के बारे में वियना में वार्ता जारी है, अमरीका के कनक्टिकट राज्य के सीनेटर क्रिस मर्फ़ी ने कहा है कि ट्रम्प ने परमाणु समझौते से निकलकर बहुत बड़ी ग़लती की है। हालांकि अन्तर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेन्सी आईएईए की ओर से ईरान द्वारा हर प्रकार की प्रतिबद्धताओं की पुष्टि के बावजूद ट्रम्प मई 2018 में एक पक्षीय रूप में उस अन्तर्राष्ट्रीय परमाणु समझौते से निकल गए जिसे राष्ट्रसंघ की सुरक्षा परिषद का समर्थन हासिल था।

ट्रम्प के बाद आने वाले अमरीकी राष्ट्रपति बाइडेन ईरान के विरुद्ध अधिक दबाव की नीति की विफलता को तो स्वीकार किया और यह भी कहा कि वे अमरीका को वापस जेसीपीओए में लाना चाहते हैं किंतु इस बारे में उन्होंने अभी तक कोई काम नहीं किया है।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजि

टैग्स