Jan २३, २०२२ १८:४७ Asia/Kolkata
  • ब्रिटेन की सांसद और पूर्व मंत्री ग़नी का दावा, मुसलमान होने के कारण उन्हें पद से हटाया गया

ब्रिटेन की सांसद और पूर्व मंत्री नुसरत ग़नी ने धार्मिक आधार पर अपने साथ भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा है कि उन्हें सिर्फ़ इसलिए मंत्री पद से हटा दिया गया, क्योंकि वह मुसलमान हैं।

ग़नी को 2020 में सरकारी व्हिप ने मंत्री पद से बर्ख़ास्त कर दिया था, लेकिन उन्होंने इसके लिए अपने धर्म को सबसे बड़ी वजह बताया है।

ग़नी का कहना है कि जब उन्होंने मंत्री पद से बर्ख़ास्त किए जाने की वजह पूछी तो उन्हें बताया गया कि उनका मुस्लिम होना एक मुद्दा था।

इस बीच, कंज़रवेटिव चीफ़ व्हिप मार्क स्पेंसर ने ग़नी के आरोपों को पूरी तरह से ग़लत और अपमानजनक बताया है।

ग़नी को 2018 में परिवहन विभाग के एक पद पर नियुक्त किया गया था लेकिन फ़रवरी 2020 में ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की सरकार में हुए फेरबदल के दौरान उनसे यह पद वापस ले लिया गया था।

वहीं कैबिनेट मंत्री नदीम ज़हावी ने कहा है कि ग़नी की ओर से लगाए गए आरोपों की जांच होनी चाहिए।

संडे टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक़, ग़नी कहना है कि जब सरकारी व्हिप से उन्हें हटाए जाने को लेकर स्पष्टीकरण मांगा तो उन्हें बताया गया, फेरबदल के बारे में चर्चा के दौरान उनका मुस्लिम होना एक मुद्दा बन गया था और उनका मुस्लिम होना कई सहयोगियों को असहज कर रहा था।

वेल्डन से सांसद ग़नी ने यह भी आरोप लगाया कि उन्होंने यह मामला उस समय सिर्फ़ इसलिए नहीं उठाया था, क्योंकि उन्हें धमकी दी गई थी कि अगर वह इस मुद्दे को ज़्यादा उठायेंगी तो उन्हें बहिष्कृत कर दिया जाएगा और उनका करियर और प्रतिष्ठा बर्बाद हो जाएगी। msm

टैग्स