Jun २६, २०२२ १३:४८ Asia/Kolkata
  • उत्तरी कोरिया ने की अमरीका की उकसावे वाली कार्यवाहियों की निंदा

कोरिया प्रायःद्वीप में अमरीका की बढ़ती वर्चस्ववादी गतिविधियों के कारण उत्तरी कोरिया ने वाशिग्टन की कड़ी निंदा की है।

उत्तरी कोरिया ने एक बयान जारी करके क्षेत्र में अमरीका और दक्षिणी कोरिया की संयुक्त सैन्य कार्यवाहियों की भर्त्सना की।

बयान में कहा गया है कि दोनो कोरिया के युद्ध की 72वीं बरसी के अवसर पर कोरिया प्रायःद्वीप में बढ़ती हुई सैन्य गतिविधियों का उत्तर अवश्य दिया जाएगा। उत्तरी कोरिया की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि दबाव के उद्देश्य से क्षेत्र में विमान वाहक पोत, लंबी दूरी के बम वर्षक मिसाइल और इसी प्रकार के सैन्य उपकरणों की तैनाती से युद्ध का ख़तरा बना रहेगा।

उल्लेखनीय है कि उत्तरी कोरिया की ओर से दो बैलेस्टिक मिसाइलों के परीक्षण के बाद कोरिया प्रायद्वीप में हालिया सप्ताहों के दौरान तनाव बढ़ता जा रहा है।  अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ उत्तरी कोरिया के नेता किम जूंग ऊन की वार्ता की विफलता के बाद उत्तरी कोरिया ने मिसाइलों के परीक्षण का काम आरंभ कर दिया था।  अमरीका ने कोरिया प्रायद्वीप में अपनी सैन्य गतिविधियों को अभूतपूर्व ढंग से बढ़ा दिया है जिससे पता चलता है कि क्षेत्र में बढ़ते तनाव का मुख्य कारक अमरीका ही है।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स