Aug १३, २०२२ ०८:३५ Asia/Kolkata
  • हमले में रुश्दी के लीवर को नुक़सान पहुंचा और उसकी एक आंख जा सकती है,

इस्लाम और मुसलमानों का अपमान करने वाले लेखक सलमान रुश्दी पर अमरीका के न्यूयार्क शहर में हमला हो गया जिसके नतीजे में रुश्दी के लीवर को भारी नुक़सान पहुंचा है और उसकी एक आंख जा सकती है।

भारतीय मूल के ब्रितानी लेखक सलमान रुश्दी के एजेंट ने बताया कि रुश्दी की हालत ठीक नहीं है वह जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया है वहीं पुलिस ने हमलावर की पहचान ज़ाहिर की है।

एजेंट का कहना था कि रुश्दी की एक आंख जा सकती है जबकि लीवर को भी नुक़सान पहुंचा है। एंड्र्यू वेले ने बताया कि रुश्दी के हाथों की नसें भी कट गई हैं।

पुलिस का कहना है हमलवार अमरीकी है जिसका नाम हादी मतर है और उसकी उम्र 24 साल है। पुलिस का कहना है कि हमले की भावना क्या थी इसका पता लगाने के लिए जांच की जा रही है।

सलमान रुश्दी पर एक सेमीनार में हमला किया गया। हमलवार ने रुश्दी की गरदन और पेट पर चाक़ू से वार किए। रुश्दी भारतीय मूल का ब्रितानी लेखक है जिसकी उम्र 75 साल से ज़्यादा है और कई साल से न्यूयार्क में रह रहा है।

सलमान रुश्दी ने शैतानी आयात नाम से एक किताब लिखकर इस्लाम और पूरी दुनिया के मुलसमानों को अपमान किया था।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें

टैग्स