Aug १३, २०२२ १०:४८ Asia/Kolkata
  • चीन और अमरीका के राष्ट्रपतियों की मुलाक़ात के लिए जारी कोशिशों के बीच ताइवान स्ट्रेट से गुज़रना चाहता है अमरीकी बेड़ा

जहां एक तरफ़ तनाव को कंट्रोल करने के लिए अमरीका और चीन के राष्ट्रपतियों के बीच मुलाक़ात आयोजित करवाने की कोशिशें जारी हैं वहीं दूरी ओर अमरीका ने एक भड़काऊ क़दम उठाते हुए ताइवान स्ट्रेट से अपना समुद्री बेड़ा गुज़ारने का एलान किया है।

अमरीका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अमरीका नौसेना और वायु सेना से ताइवान स्ट्रेट के क़रीब एक आप्रेशन करवा रहा है। ज़ाहिर है कि अगर अमरीका यह क़दम उठाता है तो तनाव और भी बढ़ जाएगा।

एशिया के मामलों में अमरीकी राष्ट्रपति के सलाहकार कोर्ट कैंपबेल ने कहा कि तनाव के बावजूद ताइवान स्ट्रेट से अमरीकी नौसेना का बेड़ा भी गुज़रेगा और अमरीकी वायु सेना के विमान इस इलाक़े में उड़ानें भरेंगे। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय क़ानून हमें यह करने की अनुमति देता है।

अमरीका दरअस्ल एक प्रकार का सैन्य अभ्यास करना चाहता है।

इससे पहले अमरीकी संसद की प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नेन्सी पेलोसी ने ताइवान का दौर किया था जिसके बाद चीन ने ताइवान को घेरकर बड़े पैमाने पर सैन्य अभ्यास किया था। ताइवान का कहना है कि यह सैन्य अभ्यास किसी युद्ध के समान था।

अमरीकी सैन्य अभ्यास के एलान के बाद ताइवान के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि ताइवान अमरीका का आभार व्यक्त करता है तो ताइवान की रक्षा के लिए ठोस क़दम उठा रहा है।

कैंपबेल का कहना था कि ताइवान को लेकर चीन जो भी उत्तेजक कार्यवाही करेगा अमरीका उसका जवाब देगा। उन्होंने कहा कि पेलोसी की यात्रा के बहाने चीन ने ताइवान पर भारी दबाव डालने की कोशिश की। साथ ही उन्होंने कहा कि चीन के साथ संपर्क के चैनल हैं जो काम कर रहे हैं।

कैंपबेल ने कहा कि अमरीका के राष्ट्रपति जो बाइडन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच मुलाक़ात की कोशिश चल रही है। उन्होंने कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति ने इस मुलाक़ात की इच्छ जताई लेकिन उन्होंने इस बारे में कुछ नहीं कहा कि जी-20 के शिखर सम्मेलन के अवसर पर यह मुलाक़ात हो सकती है या नहीं।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें

टैग्स