Aug १६, २०२२ १९:१५ Asia/Kolkata
  • नये अध्ययन ने अमरीकियों की चिंताएं बढ़ा दी हैं!

एक नए अध्ययन में कहा गया कि 2053 तक अमरीका भीषण गर्मी की चपेट में होगा जहां का तापमान 51 डिग्री के आसपास हो जाएगा।

यह हालत लगभग आधे अमरीका में होगी। इस भीषण गर्मी के कई बुरे परिणाम सामने आएंगे। अत्यधिक गर्म मौसम वाली जगह को एक्सट्रीम हीट बेल्ट कहा जाता है। ऐसी जगहों पर साल में कम से एक दिन तापमान 52 डिग्री सेंटीग्रेड से ऊपर चला जाता है। नए अध्ययन के मुताबिक 2053 तक अमरीका की 10 करोड़ आबादी को ऐसे इलाके में रहने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

यह अध्ययन गैर लाभकारी संस्था फ़र्स्ट स्ट्रीट फाउंडेशन ने किया है। अध्ययन में गर्मी के जोखिम का अनुमान लगाने के लिए जनता और तीसरे पक्ष के डेटा के साथ निर्मित पुराने समीक्षा मॉडल का उपयोग किया गया है।

अध्ययन में कहा गया है कि मौसम के जोखिम का आकलन 30 वर्गमीटर के हाइपर लोकल पैमाने पर किया गया है। अध्ययन के मुताबिक राष्ट्रीय मौसम सेवा द्वारा निर्धारित अत्यधिक श्रेणी की गर्मी, जिसे ‘अत्यधिक खतरे’ की श्रेणी में रखा जाता है, यह 52 डिग्री सेंटीग्रेड है। 2023 तक अमरीका के 81 लाख लोगों को अत्यधिक गर्मी की श्रेणी में रहना होगा। चिंता की बात यह है कि इस गर्मी का प्रभाव क्षेत्र 2053 तक इतना बढ़ जाएगा कि यह 10.7 करोड़ लोगों को यह प्रभावित करेगी और अमरीका के आधे क्षेत्रों को कवर कर लेगी, जो वर्तमान की तुलना में 13 गुना अधिक होगी। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें

टैग्स