Oct १८, २०१९ १९:२७ Asia/Kolkata
  • पाकिस्तान फ़रवरी 2020 तक एफ़एटीएफ़ की ग्रे लिस्ट में रहेगा

फ़ायनैन्शियल एक्शन टास्क फ़ोर्स एफ़एटीएफ़ ने पाकिस्तान की ओर से आतंकियों की आर्थिक सहायता और मनी लांडरिंग के ख़िलाफ़ उठाए गए क़दमों को स्वीकार करते हुए औपचारिक रूप से घोषणा की है कि आने वाले 4 महीनों तक पाकिस्तान ग्रे लिस्ट में ही रहेगा।

पैरिस में एफ़एटीएफ़ की बैठक की समाप्ति पर टास्क फ़ोर्स के अध्यक्ष शियांग मनलू ने प्रेस कान्फ़्रेन्स की और बताया कि पाकिस्तान अभी और चार महीने इस लिस्ट में रहेगा।

भारत ने पाकिस्तान का नाम इस संस्था की ब्लैक लिस्ट में शामिल कराने की कोशिश की थी लेकिन संस्था ने उसे ग्रे लिस्ट में रखने का निर्णय किया है।

एफ़एटीएफ़ के बयान के अनुसार इस्लामाबाद को निर्देश दिया गया है कि वह मनी लांडरिंग और आतंकियों की सहायता को पूरी तरह समाप्त करने के लिए अभी और क़दम उठाए। साथ ही यह भी कहा गया है कि अगर पाकिस्तान ने आने वाली बैठक तक अपने एक्शन पर पूरी तरह प्रभावी और स्पष्ट प्रगति न दिखाई तो एफ़एटीएफ़ की ओर से कार्रवाई की जाएगी।

टैग्स

कमेंट्स