Nov २१, २०१९ १९:४७ Asia/Kolkata

संयुक्त राष्ट्र संघ में यह दृश्य दिखाई दिया कि ग़ैर क़ानूनी यहूदी बस्तियों के मुद्दे पर अमरीका और इस्राईल की बात मानने के लिए कोई भी तैयार नहीं हुआ।

बहरहाल फ़िलिस्तीनियों को बहुत पहले से यह पता है कि उन्हें इस्राईल के ख़िलाफ़ संघर्ष करके ही अपना अधिकार मिल सकता है और वह संघर्ष में लगे हुए हैं। लगता है कि इस संघर्ष का नतीजा भी अब सामने आने लगा है। 

टैग्स

कमेंट्स