Dec १८, २०१९ १७:३६ Asia/Kolkata
  • पाकिस्तान की कश्मीर के मामले में यूएन से भारत पर दबाव डालने की मांग, अंतर्राष्ट्रीय हल्क़ों की ख़ामोशी की निंदा की

पाकिस्तान ने भारत प्रशासित कश्मीर की जनता की बुरी हालत पर अंतर्राष्ट्रीय हल्क़ों की ख़ामोशी की आलोचना की है।

पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने भारत प्रशासित कश्मीर की जनता की बुरी हालत का ज़िक्र करते हुए इस संबंध में संयुक्त राष्ट्र महासभा सहित अंतर्राष्ट्रीय हल्क़ों से अपना रोल निभाने की मांग की।

उन्होंने कहा कि कश्मीरियों को अपने भविष्य का फ़ैसला करने का अधिकार है और मौजूदा क़ानून के मुताबिक़, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को इस काम के लिए भारत पर दबाव डालना चाहिए।

शाह महमूद क़ुरैशी ने कहा कि भारतीय सेना द्वारा हालिया महीने में कश्मीरी जनता का दमन तेज़ हो गया है, लेकिन इस संबंध में ज़िम्मेदार अंतर्राष्ट्रीय संस्थाएं ख़ामोश बैठी हैं।

भारत ने अपने नियंत्रण वाले कश्मीर में लाखों की तादाद में फ़ौज़ी तैनात कर रखे हैं और पिछले तीन दशकों के दौरान भारतीय फ़ौजियों ने दसियों हज़ार कश्मीरियों की हत्या की है।

कश्मीरी जनता इस इलाक़े की स्थिति के निर्धारण के लिए सुरक्षा परिषद के कश्मीर में रेफ़्रेन्डम कराने से संबंधित प्रस्ताव को लागू कराना चाहती है लेकिन भारत सरकार इस विषय का विरोध करने के साथ ही रेफ़्रेन्डम कराने से पीछे हटती है।(MAQ/N)

 

टैग्स

कमेंट्स