Jan १६, २०२० २०:५५ Asia/Kolkata

अमेरिकी आतंकवादी कार्यवाही के जवाब में ईरान की ओर से इराक़ स्थित अमेरिकी सैन्य अड्डे ऐनुल असद पर होने वाली मिसाइलों की बारिश के बाद वहां मौजूद अमेरिकी सैनिक के पिता का कहना है कि ईरान की जवाबी कार्यवाही के बाद से अबतक उन्हें उनके बेटे की कोई ख़बर नहीं मिली है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, ईरान की ओर से इराक़ में स्थित अमेरिका के आतंकवादी अड्डे एनुल असद पर होने वाली मिसाइलों की बारिश के बाद वहां मौजूद एक अमेरिकी सैनिक के पिता का कहना है कि ईरान के जवाबी हमले के बाद से अबतक मुझे अपने इकलौते बेटे की कोई सूचना नहीं है। उन्होंने कहा कि कोई नहीं है जो उन्हें सही स्थिति के बारे में बताए। अमेरिकी सैनिक के पिता ने ट्रम्प से सवाल किया है कि, अगर एनुल असद में कोई हताहत नहीं हुआ है तो मेरा इकलौता बेटा कहां है?

बता दें कि इससे पहले भी एनुल असद में मौजूद अमेरिकी सैनिकों के परिजनों ने अमेरिकी सिनेटर चेक शूमर के घर के बाहर एकत्रित होकर उनसे मांग की थी कि, वह उन्हें उनके सैनिक बच्चों की सही स्थिति के बारे में बताएं। अमेरिकी सैनिकों के परिजनों का कहना है कि एक सप्ताह से अधिक का समय बीत रहा है और उन्हें उनके सैनिक बच्चों के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं है।

उल्लेखनीय है कि 3 जनवरी को इराक़ की राजधानी बग़दाद के अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आईआरआईजीसी की क़ुद्स ब्रिगेड के कमांडर शहीद जनरल क़ासिम सुलैमानी और इराकी स्वयंसेवी बल के डिप्टी कमांडर अबू मेहदी अल-मोहन्दिस सहित कई अन्य ईरानी व इराक़ी सैन्य अधिकारियों पर अमेरीकी सेना के आतंकवादी हमले के बाद ईरान ने इराक़ स्थित अमरीकी सैन्य छावनी एनुल असद पर जवावी कार्यवाही की थी जिसमें अमरीका को बहुत भारी नुक़सान उठाना पड़ा था। हालांकि आरंभ में अमरीका ने इस क्षति को छिपाने की कोशिश की किंतु बाद में पता चला कि वह नुक़सान उससे कही अधिक था जितना अमरीकी बता रहा था।

ईरान ने कहा था कि हमारी इस जवाबी कार्यवाही में कम से कम अमेरिका के 80 आतंकी मारे गए हैं, जबकि 200 से अधिक घायल हुए हैं। हलांकि अमेरिका अभी भी यह दावा कर रहा है कि उसका किसी भी तरह का कोई जानी नुक़सान नहीं हुआ है। (RZ)

 

टैग्स

कमेंट्स