Feb २०, २०२० २०:०० Asia/Kolkata

देर रात दो बजकर तीन मिनट पर विशेष कार्यवाही करके एक बूढ़े व्यक्ति को घर से बाहर निकाला गया, जिसके बारे में कहा जा रहा है कि वह हमलावर का पिता है। टुर्यासिर ने अपने जीवन को समाप्त कर दिया, लेकिन जर्मनी में नस्लभेदी हिंसा की कार्यवाहियों में लगातार वृद्धि हो रही है, क्योंकि पिछले सप्ताह पुलिस ने एक ऐसे गुट के सद्स्यों को गिरफ़्तार किया था जो जर्मनी के 10 प्रांतो में नमाज़ियों पर हमले की योजना बना रहे थे।

टैग्स

कमेंट्स