Apr ०९, २०२० १२:३७ Asia/Kolkata
  • भारत को धमकी देने वाले ट्रम्प का सुर बदला, भारत का शुक्रिया अदा किया

भारत को अमरीकी धमकी के बाद दवाओं की सप्लाई की मंज़ूरी दिए जाने पर अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने भारत का शुक्रिया अदा किया है।

कोरोना वायरस के कहर जूझ रहे अमेरिका को भारत ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के निर्यात को मंज़ूरी दे दी है। भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की मंजूरी मिलने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प के सुर बदल गये और उन्होंने भारत और भारतीय प्रधानमंत्री की प्रशंसा की है। ट्रम्प ने भारत की ओर से कोरोना के इलाज में कारगर मानी जा रही मलेरिया की दवाई हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की सप्लाई की मंज़ूरी के बाद कहा कि अमरीका इस मदद को कभी नहीं भुलेगा। डोनल्ड ट्रम्प ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त करना चाहता हूं जिन्होंने हमारे अनुरोध को मंज़ूरी दी।

ज्ञात रहे कि इससे पहले अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने मीडिया को संबोधित कर कहा था कि अगर भारत हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा सप्लाई करता है तो ठीक, वरना हम जवाबी कार्यवाही करेंगे। हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा मलेरिया के लिए होती है जिसका भारत प्रमुख निर्यातक है।

भारत ने कहा था कि एक ज़िम्मेदार देश होने के नाते हमसे जितना हो सकेगा, हम मदद करेंगे। भारत ने अमेरिका को स्पष्ट तौर पर बताया कि हम अपने 1.30 अरब आबादी को कोरोना वायरस महामारी से सुरक्षित करने के बाद ही कोरोना वायरस के मरीजों और स्वास्थ्यकर्मियों के रोगनिरोधी दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन की आपूर्ति करेंगे। विदेश व्यापार महानिदेशालय ने 25 मार्च को इस दवा के निर्यात पर रोक लगा दी थी। (AK)

कमेंट्स