May २२, २०२० २१:०० Asia/Kolkata
  • रूस ने किया बड़ा एलान, ईरान के खिलाफ अमरीका को प्रतिबंध बढ़ाने नहीं देंगे!

रूस के उप विदेश मंत्री ने कहा है कि मास्को, इस बात को यक़ीनी बनाने के लिए कि अक्तूबर के बाद ईरान के खिलाफ हथियारों के प्रतिबंध की अवधि बढ़ायी नहीं जाएगी, अथक प्रयास करेगा।

     रूसी न्यूज़ एजेन्सी स्पूतनिक के अनुसार सरगई रियाबकोव ने कहा है कि रूस, अक्तूबर के बाद ईरान के खिलाफ हथियारों के प्रतिबंध की अवधि बढ़ाने नहीं देगा।

     उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रतिबंध को बढ़ाने का अर्थ, प्रस्ताव क्रमांक 2231 से पहले लगे प्रतिबंधों से भी अधिक प्रतिबंध लगाने के अर्थ में है। इस लिए हम सब को मालूम है कि रूस 18 अक्तूबर के बाद इस प्रकार के प्रतिबंध को जारी नहीं रहने देगा।

     याद रहे सन 2015 में ईरान और विश्व की बड़ी शक्तियों ने एक परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर किये थे। ईरान और गुट पांच धन एक के सदस्य देशों, अमरीका, ब्रिटेन, फ्रांस, रूस , चीन और जर्मनी के मध्य होने वाले इस समझौते के आधार पर यह तय हुआ था कि ईरान अपने परमाणु कार्यक्रम को सीमित करेगा और उसके बदले उसके खिलाफ प्रतिबंध या तो खत्म कर दिये जाएंगे या फिर उन्हें स्थगित किया जाएगा।

     इस समझौते में इसी प्रकार कहा गया है कि ईरान के खिलाफ हथियारों का प्रतिबंध पांच वर्ष के दौरान खत्म कर दिया जाएगा और इस से पहले भी ईरान, सुरक्षा परिषद की अनुमति से हथियार खरीद या बेच सकता है।

मई सन 2018 में अमरीका ने इस समझौते से निकलने का एलान कर दिया और ईरान के खिलाफ अधिक कड़े प्रतिबंध लगा दिये।

     अब जब ईरान  खिलाफ संयुक्त राष्ट्र संघ की ओर से लगाया गया हथियारों का प्रतिबंध खत्म हो रहा है तो अमरीका ने इस प्रतिबंध की अवधि बढ़ाने के लिए भाग दौड़ शुरु कर दी है।

     रोचक तथ्य यह है कि अमरीका, ईरान के खिलाफ हथियारों के प्रतिबंध की अवधि बढ़ाने के लिए ईरान पर आरोप लगा रहा है कि उसने परमाणु समझौते का उल्लंघन किया है हालांकि वह 2018 में ही उस समझौते से निकल चुका है। Q.A.

 

टैग्स

कमेंट्स