May २९, २०२० १९:४१ Asia/Kolkata
  • ताइवान को कभी भी हम अपने हाथ से जाने नहीं देंगेः चीन

चीन के संसद सभापति ने कहा है कि बीजिंग किसी भी शक्ति को इस बात की अनुमति नहीं देगा कि वह ताइवान को चीन से अलग करे।

ली जानशू ने शुक्रवार को कहा कि स्वतंत्रता के समर्थक बल अगर ताइवान को चीन से अलग करने के प्रयास करेंगे तो फिर हम हर शैली का प्रयोग करेंगे।  उन्होंने कहा कि उनको रोकने के लिए हम अशांतिपूर्ण तरीक़ा ही अपना सकते हैं।  चीन के संसद सभापति का कहना था कि ताइवान के स्वावलंबन के प्रयास निर्थक हैं जो परिणामहीन रहेंगे।

इसी बीच चीन के एक सैन्य अधिकारी ने आज कहा है कि अगर शांतिपूर्ण ढंग से एकता का अवसर समाप्त हो जाता है तो फिर चीन की सेना, देश की एकता और अखण्डता को सुनिश्चित बनाने के लिए किसी भी रास्ते का इस्तेमाल कर सकती है।  उनका कहना था कि ताईवान के शांतिपूर्ण समाधान के लिए चीन के पास कूटनीतिक और सैनिक दोनो मार्गों का विकल्प मौजूद है।  चीन का आरोप है कि अमरीका, ताइवान के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करता रहता है।  चीन बारंबार यह कहता आया है कि वह किसी भी स्थिति में ताइवान के स्वावलंबन को स्वीकार नहीं करेगा क्योंकि ताइवान, चीन का अटूट अंग है।

टैग्स

कमेंट्स