Jun ०३, २०२० १५:२६ Asia/Kolkata
  • जार्ज फ़्लोइड की निर्मम हत्या से भड़की आग फ़्रांस पहुंची, पेरिस में पुलिस और प्रदर्शनकारियों की झड़पें! सांस नहीं ले पा रहा हूं, अदामा को इंसाफ़ मिले के नारे!

फ़्रांस की राजधानी पैरिस में बीती रात अशांत रही और पुलिस और प्रदर्शनकारियों की झड़पें होती रहीं। पेरिस में 2016 में पुलिस के हाथों मारे गए अफ़्रीक़ी मूल के नौजवान के हत्यारों को सज़ा देने की मांग उठी है और प्रदर्शनकारी सड़कों पर निकल आए हैं।

अमरीका के मिनेसोटा में जार्ज फ़्लोइड के साथ पुलिस द्वारा की गई हैवानियत से कई घटनाओं की यादें ताज़ा हो गई हैं।

पेरिस में पुलिस की बर्बरता के ख़िलाफ़ होने वाले प्रदर्शनों में लगभग 20 हज़ार लोगों ने हिस्सा लिया। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि 19 जुलाई 2016 को अफ़्रीक़ी मूल के अदामा तरावरी की हत्या के ज़िम्मेदार पुलिसकर्मियों के ख़िलाफ़ तत्काल कार्यवाही होनी चाहिए।

प्रशासन ने कोरोना वायरस की वजह से प्रदर्शनों पर रोक लगा रखी है लेकिन फिर भी हज़ारों लोगों ने सड़कों पर निकल कर अपना विरोध दर्ज कराया और अमरीका के प्रदर्शनकारियों से एकजुटता दर्शायी।

 

पेरिस में प्रदर्शनकारियों के हाथों में प्ले कार्ड और बैनर थे जिन पर लिखा था मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं, अदामा को इंसाफ़ मिले।

पूर्वोत्तरी पैरिस में अदालत की इमारत के सामने प्रदर्शनों के दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों की झड़पें हुईं। नज़दीक के इलाक़े में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस मुख्यालय और नगरपालिका की इमारतों पर पथराव किया और शीशे तोड़ दिए।

पैरिस ही नहीं फ़्रांस के दूसरे भी कई शहरों में इसी प्रकार के प्रदर्शन हुए हैं।

टैग्स

कमेंट्स