Jun ३०, २०२० २०:५० Asia/Kolkata

अमेरिका के ख़िलाफ़ बढ़ने वाली नफ़रत और घृणा में ट्रम्प के आने के बाद हर दिन और वृद्धि होती जा रही है। जर्मन विदेश मंत्री हाइको मास का कहना है कि अब ट्रम्प के व्हाइट हाउस से जाने के बाद भी वॉशिंग्टन से संबंधों में मज़बूती नहीं आएगी। अब देखना होगा कि यूरोपीय संघ और सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता संभालने के बाद बेर्लिन और वॉशिंग्टन के बीच और यूरोपीय संघ और अमेरिका के बीच संबंधों में किस तरह के उतार-चढ़ाव आते हैं।

टैग्स

कमेंट्स