Jul ०१, २०२० १०:४४ Asia/Kolkata
  • कहां तो रूस से एस-400 ख़रीदने पर अमरीका तुर्की को प्रतिबंधित करने वाला था और कहां अब तुर्की से ही रूस का यह मीज़ाइल डिफ़ेंस सिस्टम ख़रीदने के चक्कर में है

अमरीका ने जब यह देखा कि तुर्की को रूस से एस-400 मीज़ाइल डिफ़ेंस सिस्टम ख़रीदने से रोकने के लिए प्रतिबंधों की उसकी धमकियां का कोई असर नहीं हुआ है तो अब वह ख़ुद ही अन्कारा से यह सिस्टम ख़रीदने की तैयारी कर रहा है।

अमरीका के एक सिनेटर जाॅन टोन ने सन 2021 के सैन्य बजट के लिए एक पूरक बिल का प्रस्ताव दिया है जिसके अंतर्गत वाॅशिंग्टन रूस का बना हुआ एस-400 मीज़ाइल डिफ़ेंस सिस्टम तुर्की से ख़रीद सकता है। डिफ़ेंस न्यूज़ की वेबसाइट ने रिपोर्ट दी है कि इस अमरीकी सिनेटर ने तुर्की द्वारा रूस से यह सिस्टम ख़रीदने के कारण वाॅशिंग्टन व अन्कारा के बीच पैदा होने वाले राजनैतिक व कूटनैतिक तनाव को समाप्त करने के उद्देश्य से यह प्रस्ताव पेश किया है।

 

इस बीच अमरीकी सेनेट में विदेश संबंध समिति के प्रमुख जिम रीश ने तुर्की को सबक़ सिखाने के लिए एक अधिक कड़ा प्रस्ताव दिया है जिसके अंतर्गत 2021 के सैन्य बजट बिल के क्रियान्वित होने के तीस दिन के अंदर काटसा क़ानून के तहत अन्कारा पर प्रतिबंध लगा दिए जाएंगे। काटसा क़ानून प्रतिबंधों के माध्यम से अमरीका के दुश्मनों से मुक़ाबले का क़ानून है।

 

यह ऐसी स्थिति में है कि जब तुर्की के उप रक्षा मंत्री इस्माईल दिमीर ने कुछ दिन पहले बताया था कि उनका देश रूस से दूसरा मीज़ाइल डिफ़ेंस सिस्टम ख़रीदने के मामले में रूसी पक्ष के साथ सहमति तक पहुंच गया है। अमरीकी वित्तमंत्रालय ने धमकी दी थी कि जो देश रूस से यह मीज़ाइल डिफ़ेंस सिस्टम ख़रीदेगा, उस पर प्रतिबंध लगा दिए जाएंगे। जारी साल के बजट के अंतर्गत वाइट हाउस एफ़-35 युद्धक विमानों की तैयारी की तुर्की के साथ संयुक्त योजना 2020 के अंत तक पूरी तरह से बंद कर देगा बल्कि तुर्की द्वारा ख़रीदे गए युद्धक विमान भी उसे नहीं देगा। (HN)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

टैग्स

कमेंट्स