Jul ०२, २०२० २०:२१ Asia/Kolkata
  • अमरीकी कॉन्ग्रेस की सशस्त्र सेवा कमेटी ने, नए क़ानून से ट्र्म्प के हाथ बांध दिए, जर्मनी से फ़ौजियों को कम करना हो गया मुश्किल

अमरीकी कॉन्ग्रेस की सशस्त्र सेवा कमेटी ने डेमोक्रेट्स और रिपब्लिकन द्वारा समर्थित, संशोधित क़ानून को पास कर दिया है जो जर्मनी से अमरीकी फ़ौजियों को निकालने के ट्रम्प के अधिकार को सीमित करता है।

तस्नीम न्यूज़ के मुताबिक़, नैश्नल डिफ़ेन्स ऑथराइज़ेशन ऐक्ट संशोधन बिल को दोनों दलों डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन ने पेश किया था। इस बिल के समर्थन में 49 और विरोध में 7 वोट पड़े। इस संशोधित क़ानून से अमरीकी कॉन्ग्रेस की इजाज़त लिए बिना जर्मनी सहित योरोप से अमरीकी फ़ौजियों को कम करने के लिए ज़रूरी वित्तीय स्रोत ब्लॉक हो जाएगा।

पिछले महीने अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा था कि वह जर्मनी में तैनात अमरीकी फ़ौजियों की तादाद 34500 से घटा कर 25000 कर देंगे।

ट्रम्प ने अपने इस एलान के पीछे, जर्मनी के अपनी जीडीपी के 2 फ़ीसद भाग को सैन्य ज़रूरतों पर ख़र्च करने पर पाबंद न होने को, बहाना बनाया है।

ट्रम्प के इस फ़ैसले का डेमोक्रेट्स के साथ साथ रिपब्लिकन्ज़ ने भी विरोध किया। डेमोक्रेट्स के साथ साथ रिपब्लिकन्ज़ दोनों का मानना है कि जर्मनी में अमरीकी फ़ौजियों का रहना बहुत ज़रूरी है और रूस के ख़तरे से निपटने के लिए योरोप में अमरीका की सैन्य ताक़त बनी रहनी चाहिए।(MAQ/N)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

टैग्स

कमेंट्स