Aug १०, २०२० ०९:४९ Asia/Kolkata
  • जर्मनी से क्यों निकाला अमरीका ने अपने सैनिकों को, किस देश पर है चढ़ाई की तैयारी?

अमरीकी रक्षामंत्री मार्क स्पर ने कहा है कि जर्मनी से पूर्वी यूरोप के देशों में अमरीकी सैनिकों की तैनाती का मक़सद, रूस से मुक़ाबला करना है।

उन्होंने रविवार को एक बयान में कहा कि जर्मनी से निकाले गये अमरीकी सैनिकों को रूसी सीमाओं पर तैनात किया जाएगा ताकि मास्को के संभावित ख़तरों का मुक़ाबला किया जा सके।

स्पूतनिक समाचार एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार स्पर ने एक इन्टरव्यू में कहा कि मुख्य विषय यह है कि हम अपने सैनिकों को यूरोप के अधिक पूर्वी क्षेत्रों तक पहुंचाना चाहते हैं ताकि रूस की सीमाओं से निकट हों और उसका मुक़ाबला कर सकें।

अमरीकी रक्षा मंत्री ने कहा कि अमरीका के अधिकतर घटकों ने वाशिंग्टन की इस कार्यवाही की सराहना की है और यह काम जिन लक्ष्यों के अंतर्गत किया गया है उनको पूरा कर रहा है।

उन्होंने कहा कि हमारे अब भी 24 हज़ार सैनिक जर्मनी में हैं और यह देश हमारे सैनिकों का अब भी बड़ा मेज़बान समझा जाता है, मुख्य मुद्दा यह है कि नैटो के घटकों के बढ़ने से सीमाएं इधर से इधर हो गयीं।

अमरीकी रक्षामंत्री मार्क स्पर ने अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प के बयान पर बल देते हुए कहा कि जर्मनी को नैटो की मदद करने यहां तक कि रूस से मुक़ाबले के लिए अपने सकल घरेलू उत्पाद से 2 प्रतिशत अधिक अदा करना होगा। (AK)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

टैग्स

कमेंट्स