Aug १२, २०२० ०९:१२ Asia/Kolkata
  • अमरीका और रूस के बीच कोरोना वैक्सीन जंग, रूस ने फिर अमरीका को दी पटख़नी

पूरी दुनिया में कोरोना वैक्सीन बनाने के लिए लिए प्रयास हो रहे हैं जिसमें रूस सबसे आगे है।

रूस का कहना है कि उसने कोरोना वैक्सीन बना लिया है और उसके सफल परीक्षण भी कर लिए हैं। रूसी राष्ट्रपति विलादमीर पुतीन ने मंत्रिमंडल की बैठक में एलान किया कि रूस ने कोरोना का वैक्सीन बना लिया है। पुतीन ने कहा कि जहां तक मुझे मालूम है आज सुबह 11 अगस्त को रुस दुनिया का वह पहला देश बना जहां कोरोना के वैक्सीन का रजिस्ट्रेशन हो गया।

कोरोना वैक्सीन बनाने वाली कंपनी मॉर्डना इंक ने अमेरिका के साथ कोविड-19 के लिए अपने प्रायोगिक वैक्सीन की 10 करोड़ डोज बनाने और वितरित करने का एक समझौता किया है।

यह समझौता 1.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर का है। वाइट हाउस में ब्रीफिंग के दौरान अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने कहा कि मुझे यह घोषणा करते हुए ख़ुशी हो रही है कि हम कोरोना वायरस वैक्सीन के 10 करोड़ डोज़ बनाने और वितरित करने के लिए मॉडर्ना के साथ एक समझौते को अंतिम रूप दे रहे हैं। वैक्सीन रजिस्टर्ड होते ही हम तेज़ी से 10 करोड़ डोज़ का उत्पादन करने के ट्रैक पर हैं।

ज्ञात रहे कि मॉडर्ना की कोरोना वैक्सीन ट्रायल के अंतिम चरण में है। (AK)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

इंस्टाग्राम पर हमें फ़ालो कीजिए!

टैग्स

कमेंट्स