Aug २९, २०२० १८:४२ Asia/Kolkata
  • पवित्र क़ुरआन के अनादर के बाद स्वीडन के माल्मो नगर में फैली हिंसा

पवित्र क़ुरआन के अनादर के विरोध में स्वीडन के माल्मो नगर में किये गए प्रदर्शन के कारण दंगा भड़क उठा।

तसनीम समाचार एजेन्सी के अनुसार स्वीडन के दक्षिणी नगर माल्मो के पुलिस प्रमुख ने बताया है कि शुक्रवार को कुछ अज्ञात लोगों द्वारा मुसलमानों की धार्मिक पुस्तक क़ुरआन का अनादर किये जाने के कारण इस नगर में हिंसा भड़क उठी।  पुलिस के अनुसार कुछ दक्षिणपंथी चरमपंथियों ने पवित्र क़ुरआन की प्रति को आग लगा दी।  हिंसा उस समय आरंभ हुई कि जब स्वीडन के अधिकारियों ने डेनमार्क की प्रतिबंधित दक्षिणपंथी "हार्ड लाइन" पार्टी के नेता  Rasmus Paludan रैस्मस पालुडैन को माल्मो नगर में शुक्रवार को मुसलमानों के  विरुद्ध प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी।  पुलिस के अनुसार दक्षिणपंथी हार्ड लाइन पार्टी के नेता पालुडैन ने स्वीडन के क़ानूनों का उल्लंघन किया है।  उनका व्यवहार पूरे स्वीडन राष्ट्र के लिए ख़तरा है।  उन्हें स्वीडन के बार्डर पर ही रोक दिया गया।

डेनमार्क की दक्षिणपंथी "हार्ड लाइन" पार्टी के नेता  Rasmus Paludan रैस्मस पालुडैन शुक्रवार को स्वीडन के माल्मो नगर में मुसलमानों के विरुद्ध एक बड़ी रैली में भाग लेने के लिए आने वाले थे।  इसी बीच घृणा फैलाने के आरोप में पुलिस ने पालुडैन के तीन समर्थकों को गिरफ़्तार कर लिया।  डेनमार्क की दक्षिणपंथी "हार्ड लाइन" पार्टी के नेता  Rasmus Paludan रैस्मस पालुडैन इससे पहले भी फेसबुक पर मुसलमानों के विरुद्ध नफरत भरे पोस्ट डालते रहे हैं।  उन्होंने पिछले साल कोपेनहैगन में पवित्र क़ुरआन की प्रति को जला दिया था जिसके बाद तनाव बढ़ गया था।

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

इंस्टाग्राम पर हमें फ़ालो कीजिए!

टैग्स