Sep १६, २०२० १८:१२ Asia/Kolkata
  • सऊदी अरब भी इस्राईल को औपचारिक रूप से स्वीकार कर लेगाः ट्रम्प

ज़ायोनी शासन के साथ संयुक्त अरब इमारात और बहरैन के संबंध स्थापित करने के समझौते पर दस्तख़त के तुरंत बाद अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा है कि सऊदी अरब भी इस्राईल को औपचारिक रूप से स्वीकार कर लेगा।

मंगलवार को इस्राईल के साथ इमारात और बहरैन के शांति समझौते पर हस्ताक्षर के बाद अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने बुधवार को कहा है कि सऊदी अरब ने भी उचित समय पर इस्राईल को मान्यता देने और उसके साथ संबंध स्थापित करने का वादा किया है। उन्होंने दावा किया कि इसके अलावा 7 से 9 अन्य देश भी इस्राईल के साथ संबंध स्थापित करने की घोषणा करेंगे।

 

उल्लेखनीय है कि अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प के दामाद और सलाहकार जेरेड कूश्नर ने सितम्बर के आरंभ में सऊदी अरब, क़तर, बहरैन और ओमान की यात्रा की थी जिसका उद्देश्य क्षेत्र के देशों को इस्राईल के साथ संबंध स्थापना के लिए तैयार करना था। अब तक इमारात और बहरैन इस्राईल के साथ संबंध स्थापित कर चुके हैं जबकि वे इससे पहले भी इस अवैध शासन से गुप्त संबंध बनाए हुए थे। इन देशों ने इस्राईल से अपने संबंधों को खुल कर मान लिया है और उससे शांति समझौता कर लिया है ताकि नवम्बर के आरंभ में होने वाले अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव में ट्रम्प को फ़ायदा पहुंचा सकें। (HN)

 

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

इंस्टाग्राम पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स

कमेंट्स