Oct २२, २०२० १३:५६ Asia/Kolkata
  • मैं अपने सर-नेम की वजह से शर्मिंदा हूं, ट्रम्प के समर्थन की वजह से बड़ा अपमान झेलना पड़ता है, लादेन की भतीजी

नूर बिन लादेन, आतंकवादी गुट अल-क़ायदा के पूर्व प्रमुख ओसामा बिन लादेन की भतीजी, अपने सर नेम (उपनाम) से शर्मिंदा हैं, और अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प की समर्थक हैं।

सऊदी मूल की पूर्व अल-क़ायदा सरग़ना की भतीजी ने फ़ॉक्स न्यूज़ से बात करते हुए कहा कि उन्हें अपने उपनाम से शर्मिंदगी का अहसास होता है। उन्होंने यह भी कहा कि ट्रम्प के समर्थन की वजह से उन्हें काफ़ी अपमान भी सहना पड़ता है।

नूर का कहना था कि जब से उन्होंने अमरीकी राष्ट्रपति के समर्थन का एलान किया है, विशेष समारोहों में उन्हें अपमानित किया जाता है।

उन्होंने कहा कि अपने चाचा के नाम के आगे "बिन लादेन" लगा होने की वजह से उन्हें ख़ुद से ही नफ़रत होती है, हालांकि उन्हें इस नाम से ज़्यादा ट्रम्प के समर्थन की वजह से निशाना बनाया जाता है।

नूर बिन लादेन ने पहली बार सितम्बर 2020 को न्यूयॉर्क पोस्ट को इंटरव्यू दिया था, उससे पहले तक उन्होंने अपनी पहचान सार्वजनिक नहीं की थी।

उन्होंने अपने इंटरव्यू में दावा किया था कि सिर्फ़ ट्रम्प एक ऐसे शख़्स हैं, जो अमरीका में नाइन इलेवन जैसी घटना दोबारा घटने से रोक सकते हैं।

उनका कहना था कि वह स्विट्ज़रलैंट में रहती हैं, लेकिन दिल से वह एक अमरीकी हैं।

नूर बिन लादेन ओसामा बिन लादेन के सौतेले भाई, यसलाम और स्विस लेखक कारमेन की बेटी हैं, जिन्होंने 2004 में बिन लादेन परिवार में बिताए गए अपने समय के बारे में सबसे ज़्यादा बिकने वाला संस्मरण लिखा था।

1988 में नूर के माता पिता एक दूसरे से अलग हो गए थे। उनका कहना था कि उनका अपने पिता से संपर्क बहुत कम होता है, जिनका पारिवार सऊदी अरब के बड़े व्यावसायिक परिवारों में से एक है। msm

टैग्स

कमेंट्स