Oct २७, २०२० १९:३० Asia/Kolkata
  • फ़्रांस द्वारा पैग़म्बर मोहम्मद के अनादर का इस्राईल ने किया समर्थन

फ़्रांसीसी राष्ट्रपति द्वारा इस्लाम और मुसलमानों के ख़िलाफ़ ज़हर उगलने और पैग़म्बर मोहम्मद (स) के अपमानजक कार्टूनों के प्रकाशन पर अड़े रहने के बाद, तुर्क राष्ट्रपति ने फ़्रांसीसी उत्पादों के बहिष्कार की घोषणा की है, जिसका इस्राईल ने कड़ा विरोध किया है।

इस्राईली विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करके पैग़म्बरे इस्लाम के अनादर को अभिव्यक्ति की आज़ादी क़रार दिया है और कहा है कि ज़ायोनी शासन, फ़्रांसीसी उत्पादों के बहिष्कार के ख़िलाफ़ है और वह पेरिस के साथ खड़ा है।

क़ुद्स न्यूज़ वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक़, इस्राईल ने इस्लाम विरोधी फ़्रांसीसी सरकार की नीति को नाज़ियों की यहूदी विरोधी नीतियों से तुलना करने को भी ख़ारिज कर दिया है।

इस्राईली विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि फ़्रांसीसी उत्पादों के बहिष्कार का आंदोलन, इस्राईली उत्पादों के बहिष्कार के लिए चलाए जा रहे आंदोलन जैसा है, जिससे केवल नफ़रत को ही बढ़ावा मिलता है।

फ़्रांसीसी राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रां ने अक्तूबर की शुरूआत में इस्लाम को फ़्रांस के भविष्य के लिए ख़तरा बताते हुए कहा था कि कट्टरवाद की वजह से आज फ़्रांस में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में इस्लाम संकट में है।

पिछले हफ़्ते पेरिस में अपमानजनक कार्टूनों को इंटरनेट पर अपने छात्रों के साथ साझा करने वाले एक शिक्षक सैमुएल पैटी का एक मुस्लिम छात्र द्वारा सिर काट दिए जाने के बाद, फ़्रांस के गृह मंत्री ने देश की सुपरमार्केटों में हलाल वस्तुओं पर नाराज़गी जताई थी।

फ़्रांसीसी अधिकारियों की इस्लाम विरोधी टिप्पणियों के कारण, अरब और इस्लामी जगत में रोष बढ़ता जा रहा है और लोग फ़्रांसीसी उत्पादों का बहिष्कार कर रहे हैं। msm

कमेंट्स