Nov २४, २०२० १२:४४ Asia/Kolkata

रिपब्लिकन प्रशासन का जनरल सर्विसेज़ एडमिनिस्ट्रेशन (जीएसए) को आगे की कार्यवाही करने और बाइडेन प्रशासन के साथ काम करने की अनुमति देने से साफ़ है कि ट्रम्प को भी आख़िर व्हाइट हाउस में अपना अंत क़रीब नज़र आ गया है। हालांकि, पिछले तीन हफ्तों से वह बिना किसी सबूत के यह दावे बार-बार कर रहे हैं कि चुनाव में धांधली हुई है और वास्तव में वह चुनाव जीते हैं।

प्राप्त रिपोरट के मुताबिक़, अमेरिका के वर्तमान राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने आख़िरकार व्हाइट हाउस छोड़ने के संकेत दिए हैं। सोमवार को अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन के प्रशासन के लिए रास्ता बनाने वाली सरकारी एजेंसी (जीएसए)  ने कहा कि वह सत्ता हस्तांतरण में लगाए गए रोक को आख़िरकार हटा रही है। इसके बाद ट्रम्प ने भी इशारे दिए कि अब जनरल सर्विसेज़ एडमिनिस्ट्रेशन को 'वह करना चाहिए जो करने की ज़रूरत है।' ट्रम्प द्वारा जीएसए के लिए किए गए ट्वीट से यह साफ़ दिखाई दे रहा है कि अब उन्हें भी व्हाइट हाउस में रुके रहने की कोई उम्मीद नज़र नहीं आ रही है। हालांकि, उसी ट्वीट में उन्होंने फिर एक बार यह कहा कि वह हार मानने से इनकार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 'हमारा केस मज़बूती से चल रहा है। हम अच्छी लड़ाई जारी रखेंगे और मुझे विश्वास है कि हम जीतेंगे।'

इस बीच, रिपब्लिकन प्रशासन का जनरल सर्विसेज़ एडमिनिस्ट्रेशन  को आगे की कार्यवाही करने और बाइडेन प्रशासन के साथ काम करने की अनुमति देने से साफ़ है कि ट्रम्प को भी आखिर अंत क़रीब नज़र आ गया है। हालांकि, पिछले तीन हफ्तों से वह बिना किसी सबूत के यह दावे बार-बार कर रहे हैं कि उनसे यह चुनाव 'चुराए गए हैं।' अब इसका मतलब है कि बाइडेन की टीम को फंड, ऑफिस स्पेस और फेडरल अधिकारियों से मिलने का अधिकार मिल जाएगा। बाइडेन के ऑफिस, जिसने इसके घंटों पहले घोषणा की थी कि अमेरिकी विदेश नीतियों और सुरक्षा पदों के लिए बहुत ही अनुभवी लोगों के एक समूह की नियुक्ति होगी, ने कहा कि 'जनरल सर्विसेज़ एडमिनिस्ट्रेशन अब सत्ता के आसान और शांतिपूर्ण हस्तांतरण में ज़रूरी मदद की अनुमति दे देगा।'

वहीं बाइडेन के ट्रांज़िशन डायरेक्टर योहानेस अब्राहम ने एक बयान जारी कर कहा कि 'आने वाले दिनों में, ट्रांजिशन अधिकारी फेडरल अधिकारियों से मिलना शुरू करेंगे ताकि महामारी को लेकर हो रहे काम, राष्ट्रीय सुरक्षा हितों पर पूरी डिटेल और सरकारी एजेंसियों को खोखला करने की ट्रम्प प्रशासन की कोशिशों को पूरी तरह समझा जा सके।' ट्रम्प की ओर से यह संकेत मिशीगन की ओर से अपने चुनावी नतीजों की दोबारा पुष्टि करने के बाद आया है। वहीं, दूसरी ओर ट्रम्प के समर्थकों के एक बड़े गुट ने भी मांग की है कि अब वह इस गतिरोध को ख़त्म करें। (RZ)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स