Nov २७, २०२० ०९:५९ Asia/Kolkata
  • इस्लामाबाद में हज़ारों लोगों ने कोविड-19 का चीनी टीका लगवाया, वैक्सीन की अभी औपचारिक पुष्टि भी नहीं हुई है!

पाकिस्तान के सरकारी सूत्रों ने बताया है कि चीन द्वारा तैयार की गई कोरोना वायरस की वैक्सीन की अभी औपचारिक रूप से पुष्टि नहीं हुई है लेकिन हज़ारों पाकिस्तानी स्वयं सेवकों ने यह टीका लगवा लिया है।

इस्लामाबाद से फ़्रान्स प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान में वैक्सिनेशन विभाग के अधिकारियों ने बताया है कि दस हज़ार स्वयं सेवियों में से लगभग सात हज़ार को कोविड-19 का चीनी टीका लगा दिया गया है। यह वैक्सीन चीनी लैब कान सिनो बायो और बीजिंग बायो टेक्निकल इंस्टीट्यूट ने तैयार किया है। एक पाकिस्तान स्वयं सेवी ने अपना नाम प्रकट न किए जाने की शर्त पर इस्लामाबाद के शेफ़ा अस्पताल में बताया कि उसने इंसानियत की मदद के लिए स्वेच्छा से यह टीका लगवाने का फ़ैसला किया है। टीका लगवाने वाले हर व्यक्ति को 50 डाॅलर भी दिए जा रहे हैं।

 

पाकिस्तान में वैक्सिनेशन की निगरानी करने वाले एक विशेषज्ञ एजाज़ अहमद ख़ान ने बताया कि कोविड-19 की इस वैक्सीन के आरंभिक परिणाम अगले दो से तीन महीने में सामने आ जाएंगे। इस समय पाकिस्तान में कोरोना के तीन लाख 86 हज़ार से ज़्यादा मरीज़ हैं जबकि 7800 से ज़्यादा लोग मरे चुके हैं। वहीं पूरी दुनिया में कोरोना के मरीज़ों की संख्या 6 करोड़ से भी ज़्यादा हो गई है जबकि मरने वालों की संख्या लगभग 14 लाख 30 तक पहुंच गई है। दुनिया में अब तक चार करोड़ 21 लाख लोग कोरोना के घातक वायरस को हराने में सफल रहे हैं। अमरीका, कोरोना से सबसे ज़्यादा प्रभावित होने वाला देश है जहां कोरोना के मरीज़ों की संख्या एक करोड़ 32 लाख से अधिक हो चुकी है जबकि लगभग 2 लाख 70 हज़ार की मौत हो गई है। (HN)

 

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स