Nov २८, २०२० ०८:४९ Asia/Kolkata
  • ट्रम्प ने इशारा दे दिया कि शहीद फ़ख़्रीज़ादे की हत्या में किसका हाथ है!

अमरीका के राष्ट्रपति ने अपने एक ट्वीट के माध्यम से इस बात का इशारा दे दिया है कि ईरान के परमाणु वैज्ञानिक की हत्या में किसका हाथ हो सकता है।

डोनल्ड ट्रम्प ने एक इस्राईली पत्रकार के ट्वीट को रिट्वीट करके ईरान के परमाणु वैज्ञानिक शहीद फ़ख़्रीज़ादे की हत्या में इस्राईल का हाथ होने की लगभग पुष्टि कर दी है। उन्होंने इस्राईली पत्रकार के जिस ट्वीट को रिट्वीट किया है, उसमें कहा गया है कि इस्राईली गुप्तचर एजेंसी मुसाद बरसों से मोहसिन फ़ख़्रीज़ादे के पीछे पड़ी हुई है। ज्ञात रहे कि ईरान के वरिष्ठ परमाणु वैज्ञानिक मोहिसन फ़ख़्रीज़ादे को राजधानी तेहरान के निकट दमावंद के इलाक़े में शुक्रवार को एक आतंकी हमले में शहीद कर दिया गया।

 

इस बीच अमरीका की अनेक अहम हस्तियों ने शहीद फ़ख़्रीज़ादे की हत्या को ईरान के साथ कूटनीति का रास्ता बंद करने की एक साज़िश क़रार दिया है। अमरीका के एक सिनेटर क्रिस मर्फ़ी ने लिखा है कि अगर इस हत्या का पहला लक्ष्य, ईरान के साथ हुए परमाणु समझौते को लौटाने के हालात को अधिक मुश्किल बनाना है, तो इससे अमरीका, इस्राईल और दुनिया अधिक सुरक्षित नहीं होगी। सीआईए के पूर्व प्रमुख जाॅन बर्नन ने भी इस हत्या को एक आपराधिक क़दम बताया है और सचेत किया है कि इससे इलाक़े में प्रतिशोधक कार्यवाहियों और झड़पों की लहर आ सकती है। अमरीकी विदेश मंत्रालय के एक पूर्व अधिकारी मार्क फ़िट्ज़ पैट्रिक ने कहा है कि फ़ख़्रीज़ादे की हत्या का कारण ईरान की युद्धक क्षमता को रोकना नहीं बल्कि कूटनीति को रोकना था। (HN)

 

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स