Jan १६, २०२१ २२:०५ Asia/Kolkata
  • अमरीकी इतिहास का सबसे बुरा विदेशमंत्री सिद्ध हुआ पोम्पियोः फ्रेड काॅपलेन

एक अमरीकी पत्रिका ने माइक पोम्पियो को अमरीकी इतिहास का सबसे बुरा विदेशमंत्री बताया है। इस पत्रिका ने इसके समर्थन में कई उदाहरण पेश किये हैं।

स्लेट मैगज़ीन के एक लेख में माइक पोम्पियो को अमरीका का सबसे बुरा विदेशमंत्री बताते हुए कहा गया है कि उनका कार्यकाल नाकामियों से भरा हुआ है।

स्लेट मैगज़ीन में फ्रेड काॅपलेन ने एक लेख लिखा है।  इसमे बताया गया है कि पोम्पियो ने अपने कार्यकाल में कोई भी एसा काम नहीं किया जिससे दुनिया में अमरीका की इज़्ज़त बढ़ती या इस देश की विदेश नीति मज़बूत होती।  लेख में कहा गया है कि माइक पोम्पियो ने अमरीका को अपमानित करने वाले काम अधिक किये हैं।

फ़्रेड काॅपलेन के अनुसार अमरीकी विदेशमंत्री पोम्पियो ने अगस्त 2020 में संयुक्त राष्ट्रसंघ की सुरक्षा परिषद पर दबाव डाला कि ईरान के लिए पारंपरिक हथियारों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया जाए।  विशेष बात यह है कि अमरीका के इस प्रस्ताव केा समर्थन केवल एक ही देश ने किया।  कितनी विचित्र बात है कि अमरीका के घटकों ने भी इस मामले में उसका साथ नहीं दिया।

वे लिखते हैं कि बदनामी की बात सिर्फ यहां पर समाप्त नहीं होती है।  पोम्पियो, चीन में सत्ता परिवर्तन के सपने देख रहे थे।  अपना पूरा ज़ोर लगाने के बाद पोम्पियो तो अब जा रहे हैं किंतु चीनी व्यवस्था अपने ही स्वरूप में मौजूद है।

काॅपलेन लिखते हैं कि इसके अलावा उत्तरी कोरिया से ट्रम्प की बात मनवाने में पोम्पियो कुछ भी नहीं कर पाए।  फ़्रेड काॅपलेन अंत में पोम्पियो की विफलता का एक अन्य उदाहरण पेश करते हैं।  वेनेज़ोएला के राष्ट्रपति पर दबाव डालकर वहां नई व्यवस्था को जन्म देने के लिए भी पोम्पियों काफ़ी सक्रिय रहे किंतु उनकी विदाई निकट है, जबकि निकोलस मादूरो अपनी जगह पर अभी भी विराजमान हैं।

टैग्स